मल्टीमीडिया डेस्क। भारतीय कप्तान विराट कोहली के कीर्तिमानों के ताज में गुरुवार को एक और नगीना जुड़ गया जब वे इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेजी से 20000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बन गए। विराट ने मैनचेस्टर में क्रिकेट वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के दौरान यह मुकाम हासिल किया। विराट ने इसी के साथ दो महान क्रिकेटरों सचिन तेंडुलकर और ब्रायन लारा के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया।

विराट इस मैच से पहले 375 इंटरनेशनल मैचों की 416 पारियों में 19963 रन बना चुके थे और वे 20 हजार रनों के जादुई आंकड़े से मात्र 37 रन दूर थे। इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेजी से 20 हजार रन बनाने का रिकॉर्ड संयुक्त रूप से तेंडुलकर और लारा के नाम दर्ज था, जिन्होंने 453-453 पारियों में यह मंजिल हासिल की थी। विराट के पास इन दोनों के रिकॉर्ड को ध्वस्त करने के लिए 36 पारियां थी लेकिन उन्होंने मैनचेस्टर में वर्ल्ड कप के दौरान यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने 417वीं पारी में यह रिकॉर्ड बनाया।

विराट ने जैसे ही भारतीय पारी के 25वेंओवर में जेसन होल्डर की गेंद पर 1 रन लेकर अपने स्कोर को 37 तक पहुंचाया, इंटरनेशनल क्रिकेट में उनके 20 हजार रन पूरे हो गए। वे यह उपलब्धि पाने वाले भारत के तीसरे और दुनिया के 12वें बल्लेबाज बन गए। उनसे पहले भारत की तरफ से सचिन तेंडुलकर (34357 रन) और राहुल द्रविड़ (24208) यह कमाल कर चुके हैं।

विराट ने हाल ही में इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में सबसे तेजी से 11 हजार रन पूरे करने का रिकॉर्ड बनाया था और अब उन्होंने यह रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया।

विराट का इंटरनेशनल क्रिकेट में प्रदर्शन :

विराट ने इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू 18 अगस्त 2008 को दाम्बुला में श्रीलंका के खिलाफ वनडे में किया था। वे इस मैच से पहले 231 वनडे मैचों में 59.60 की औसत से 11087 रन बना चुके थे। उन्होंने 77 टेस्ट मैचों में 53.76 की औसत से 6613 और 67 टी20 मैचों में 50.28 की औसत से 2263 रन बनाए हैं।

इस वर्ल्ड कप में प्रदर्शन :

विराट इस वर्ल्ड कप में अभी तक एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं। उन्होंने द. अफ्रीका के खिलाफ 18, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 82, पाकिस्तान के खिलाफ 77 और अफगानिस्तान के खिलाफ 67 रन बनाए थे।