लंदन। इंग्लैंड में 30 मई से होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप में हर टीम के साथ एक-एक एंटी-करप्शन ऑफिसर रहेगा। ऐसा इसिलए किया जाएगा ताकि टूर्नामेंट को भ्रष्टाचार से मुक्त रखा जा सके। वर्ल्ड कप के इतिहास में यह कदम पहली बार उठाया जाएगा।

डेली टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक आईसीसी सभी 10 टीमों के साथ एंटी करप्शन यूनिट का एक-एक अधिकारी नियुक्त करेगी। इन्हें वार्म अप मैचों के समय से विश्व कप के अंत तक टीमों के साथ रखा जाएगा।

अभी तक इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) द्वारा हर केंद्र पर एंटी करप्शन यूनिट का अधिकारी नियुक्त किया जाता था। इस बार से टीमों को ज्यादा अधिकारियों से जूझना होगा। हर टीम के साथ एक अधिकारी की नियुक्ति वार्मअप मैचों के समय से विश्व कप की समाप्ति तक रहेगी, यह खिलाड़ी टीम के होटल में ही ठहरेगा। विश्व कप को भ्रष्टाचार मुक्त रखने के लिए आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट ने यह कदम उठाया है।

वर्ल्ड कप की शुरुआत 30 मई को होगी और इसका फाइनल 14 जुलाई को होगा। सभी 10 टीमें एक-दूसरे से खेलेंगी और इसके बाद शीर्ष चार टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी। इंग्लैंड और भारत को खिताब के प्रबल दावेदर के रूप में देखा जा रहा है।