मल्टीमीडिया डेस्क। इंग्लैंड में 30 मई से होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम की घोषणा कर दी गई है। भारत को इस बार खिताब के दावेदार के रूप में देखा जा रहा है और विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया तीसरी बार इस खिताब को हासिल करने के लिए पूरा जोर लगाएगी।

आईसीसी वनडे विश्व कप का 12वां संस्करण 14 जुलाई तक इंग्लैंड में खेला जाना है। ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक 5 बार इस खिताब को हासिल किया हैं और वह इसका गत विजेता भी हैं। वेस्टइंडीज और भारत दो-दो बार यह खिताब अपने नाम कर चुके हैं जबकि पाकिस्तान और श्रीलंका एक-एक बार चैंपियन बने थे। क्रिकेट का जनक इंग्लैंड तीन बार फाइनल में पहुंचने के बावजूद एक बार भी इस खिताब को हासिल नहीं कर पाया है लेकिन इस बार इंग्लैंड और भारत को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। इसके चलते यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या इंग्लैंड पहली बार चैंपियन बन पाएगा या भारत तीसरी बार यह खिताब हासिल करेगा।

कैसा रहा टीम इंडिया का सफर-

भारत ने पहली बार कपिल देव के नेतृत्व में 1983 में विश्व कप जीता था। इसके 28 साल बाद महेंद्रसिंह धोनी की अगुवाई में भारत ने दूसरी बार खिताब जीता था। भारत इसके अलावा एक बार (2003 में) उपविजेता रह चुका है, उस वक्त उसे फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। आइए विश्व कप में भारत के प्रदर्शन पर नजर डालते हैं...

विश्व कप भारत का प्रदर्शन

1975 ग्रुप चरण तक

1979 ग्रुप चरण तक

1983 चैंपियन

1987 सेमीफाइनल

1992 राउंड-रॉबिन चरण

1996 सेमीफाइनल

1999 सुपर सिक्स

2003 उपविजेता

2007 ग्रुप चरण

2011 चैंपियन

2015 सेमीफाइनल