मल्टीमीडिया डेस्क। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर को क्रिकेट से रिटायर हुए 6 साल होने आए हैं लेकिन क्रिकेट वर्ल्ड कप में उनके द्वारा बनाए कई रिकॉर्ड अभी भी कायम हैं। सचिन के नाम वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन, सबसे ज्यादा शतक, सबसे ज्यादा अर्द्धशतक जैसे कई प्रमुख रिकॉर्ड दर्ज हैं। आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप का 12वां संस्करण इंग्लैंड और वेल्स में 30 मई से शुरू होने जा रहा है लेकिन सचिन के कई रिकॉर्ड्स को इस बार भी कोई खतरा नजर नहीं आ रहा है।

सबसे ज्यादा रन :

क्रिकेट वर्ल्ड कप में सचिन तेंडुलकर रनों के शिखर पर काबिज हैं। उन्होंने 1992 से 2011 के बीच 45 मैचों मे 56.95 की औसत से 2278 रन बनाए हैं। सचिन की बादशाहत इसी बात से साबित होती है कि वे दूसरे क्रम पर काबिज ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (1743 रन, 46 मैच) से 535 रन आगे हैं। श्रीलंका के कुमार संगकारा 37 मैचों से 1532 रनों के साथ तीसरे क्रम पर हैं। इंग्लैंड में होने जा रहे विश्व कप में खेल रहे खिलाड़ियों में से क्रिस गेल के सबसे ज्यादा रन है। वे 26 मैचों में 944 रन बना चुके हैं। इसके चलते तेंडुलकर के इस रिकॉर्ड को इस बार कोई खतरा नहीं है।

सबसे ज्यादा शतक :

वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में भी सचिन शीर्ष पर है। उन्होंने क्रिकेट महाकुंभ में 6 शतक लगाए थे।

उन्होंने 1996 के विश्व कप में केन्या के खिलाफ नाबाद 127 और श्रीलंका के खिलाफ 137 रन बनाए थे। उन्होंने 1999 वर्ल्ड कप में पिता के निधन के बाद लौटकर केन्या के खिलाफ 140 रनों की नाबाद पारी खेली थी। उनका चौथा शतक 2003 विश्व कप में नामीबिया के खिलाफ था, जहां उन्होंने 152 रन बनाए थे। उन्होंने इसके बाद 2011 में अपने अंतिम विश्व कप में दो शतक लगाए। इंग्लैंड के खिलाफ टाई मैच में 120 रन बनाने के अलावा उन्होंने द. अफ्रीका के खिलाफ 111 रन बनाए थे।

कुमार संगकारा और रिकी पोंटिंग वर्ल्ड कप में 5-5 शतक लगा चुके हैं। वर्ल्ड कप 2019 में खेलने जा रहे खिलाड़ियों में शिखर धवन, विराट कोहली, मार्टिन गप्टिल जैसे कई खिलाडियों के नाम अधिकतम 2-2 शतक दर्ज हैं। उन्हें सचिन को पीछे छोड़ने के लिए 5-5 शतक लगाने होंगे जो आसान नहीं है।

सबसे ज्यादा अर्द्धशतक :

क्रिकेट वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा फिफ्टी लगाने का रिकॉर्ड भी सचिन के नाम दर्ज है। उन्होंने 6 शतकों के अलावा 15 अर्द्धशतक भी लगाए हैं। तेंडुलकर ने 1992 में 3, 1996 में 3, 2003 में 6, 2007 में 1 और 2011 में 2 अर्द्धशतक लगाए हैं। इस तरह वे सबसे ज्यादा शतक, अर्द्धशतक और सबसे ज्यादा फिफ्टी प्लस स्कोर (21) के मामले में नंबर वन हैं। सबसे ज्यादा फिफ्टी के मामले में द. अफ्रीका के जैक्स कैलिस (9) दूसरे स्थान पर है। यदि फिफ्टी प्लस स्कोर की बात की जाए तो संगकारा (12) दूसरे और पोंटिंग (11) तीसरे क्रम पर हैं।

एक वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन :

वर्ल्ड कप में रनों के लिहाज से लगभग हर प्रमुख खिताब सचिन के नाम दर्ज है। एक वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का श्रेय भी उन्हें ही जाता है जब उन्होंने 2002-03 में दक्षिण अफ्रीका, केन्या और जिम्बाब्वे में हुए विश्व कप में 673 रन बनाए थे। उन्होंने इस दौरान 11 मैचों में 61.18 की औसत और 89.25 की स्ट्राइक रेट से ये रन बनाए थे। उन्होंने इस दौरान 1 शतक और 6 अर्द्धशतक बनाए थे। इस मामले में ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन 2007 में 659 रनों (11 पारियां) के साथ दूसरे और श्रीलंका के महेला जयवर्धने 2007 में ही 11 पारियों में 548 रन बनाकर तीसरे क्रम पर हैं। इंग्लैंड में रनों से लबरेज पिचों को देखते हुए सचिन का यह रिकॉर्ड इस बार टूट सकता है क्योंकि सपाट पिचों पर बल्लेबाज रनों की फसल काटते हुए नजर आएंगे।