मल्टीमीडिया डेस्क। श्रीलंका के महान क्रिकेटर कुमार संगकारा ने अपने चमकीले क्रिकेट करियर में यूं तो कई कीर्तिमान बनाए हैं लेकिन आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप में बनाए एक रिकॉर्ड के लिए वे हमेशा याद किए जाते रहेंगे। रिकॉर्ड तो बनते ही टूटने के लिए हैं लेकिन उनका यह रिकॉर्ड शायद ही टूट पाए। यहां हम वर्ल्ड कप में लगातार शतक लगाने के दुर्लभ कीर्तिमान की बात कर रहे हैं।

संगकारा ने यह असंभव सा लगने वाला रिकॉर्ड अपने करियर के अंतिम वर्ल्ड कप में बनाया था। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 2015 में हुए वर्ल्ड कप में संगकारा के बल्ले से लगातार चार शतक निकले थे। उन्होंने शतक लगाने के इस क्रम की शुरुआत ब्रिस्बेन में 26 फरवरी को बांग्लादेश के खिलाफ की थी और यह सिलसिला होबार्ट में 11 मार्च को स्कॉटलैंड के खिलाफ तक चला था।

105* वि. बांग्लादेश (ब्रिस्बेन) : तिलकरत्ने दिलशान (161) और लाहिरू थिरिमाने (52) ने श्रीलंका को अच्छी शुरुआत दिलाई। इसके बाद संगकारा (105*) ने दिलशान के साथ दूसरे विकेट के लिए अविजित दोहरी शतकीय साझेदारी (210 रन) की। श्रीलंका ने यह मुकाबला 92 रनों से जीता। संगकारा को 14 के स्कोर पर जीवनदान मिला और उन्होंने इसका लाभ उठाकर शतक जमाया।

117* वि. इंग्लैंड (वेलिंगटन) : इंग्लैंड ने जो रूट के शतक (121) से 6 विकेट पर 309 रन बनाए। जवाब में श्रीलंका ने संगकारा और थिरिमाने के नाबाद शतकों से यह मुकाबला 16 गेंद शेष रहते 9 विकेट से जीत लिया। दिलशान (44) का विकेट गंवाने के बाद थिरिमाने (139*) और संगकारा (117*) के बीच दूसरे विकेट के लिए हुई अविजित दोहरी शतकीय भागीदारी (212) से श्रीलंका ने आसानी से लक्ष्य हासिल किया। संगकारा का यह विश्व कप में लगातार दूसरा शतक था।

104 वि. ऑस्ट्रेलिया (सिडनी) : मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 8 मार्च को हुए इस मैच में श्रीलंका को 64 रनों से हार झेलनी पड़ी लेकिन संगकारा ने इस मैच में शतकों की हैट्रिक पूरी कर ली। ऑस्ट्रेलिया ने ग्लेन मैक्सवेल के शतक (102) से 9 विकेट पर 376 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में संगकारा के शतक (104) के बावजूद श्रीलंका की पारी 46.2 ओवरों में 312 रनों पर सिमट गई।

124 वि. स्कॉटलैंड (होबार्ट) : संगकारा ने कमजोर होबार्ट के खिलाफ धमाकेदार पारी खेल शतकों का चौका पूरा किया। वे क्रिकेट वर्ल्ड कप में लगातार चार शतक लगाने वाले दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज हैं। संगकारा (124) और दिलशान (104) के शतकों से श्रीलंका ने यह मैच 148 रनों के विशाल अंतर से जीता।

इसके बाद संगकारा का वर्ल्ड कप में लगातार शतक लगाने का सिलसिला क्वार्टरफाइनल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ थमा जब वे 45 रन बनाकर आउट हुए।

संगकारा ने क्रिकेट वर्ल्ड कप में कुल 5 शतक लगाए। उन्होंने एक शतक 2011 विश्व कप में मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ लगाया था। वे वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में रिकी पोंटिंग के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर हैं। वे वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 37 मैचों में 1532 रन बनाए। इस मामले में सचिन तेंडुलकर (2278) पहले और रिकी पोंटिंग (1743) दूसरे स्थान पर हैं। संगकारा वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा फिफ्टी प्लस स्कोर के मामले में दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 12 बार 50 से ज्यादा का स्कोर बनाया हैं।