मल्टीमीडिया डेस्क। महेंद्रसिंह धोनी ने शनिवार को हैदराबाद में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में दमदार प्रदर्शन कर आलोचकों को करारा जवाब दिया। धोनी ने 59 रनों की नाबाद पारी खेल केदार जाधव के साथ पांचवें विकेट के लिए 141 रनों की अविजित भागीदारी कर भारत को 6 विकेट से जीत दिलाई। इस पारी के दौरान उन्होंने खास मुकाम हासिल किया और वे इस स्पेशल ग्रुप में शामिल होने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए।

धोनी ने इस मैच के दौरान लिस्ट ए क्रिकेट में 13000 रन पूरे कर लिए। अब उनके नाम 412 लिस्ट ए मैचों में 50.79 की औसत से 13054 रन हो चुके हैं। वे लिस्ट ए क्रिकेट में 13 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले सचिन तेंडुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ के बाद चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए। भारतीय कप्तान विराट कोहली इस सूची में शामिल होने से 981 रन दूर हैं। वे अभी तक 257 मैचों में 12019 रन बना चुके हैं। इंग्लैंड के ग्राहम गूच लिस्ट ए क्रिकेट में 22211 रनों के साथ पहले क्रम पर हैं।

धोनी ने 72 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से नाबाद 59 रन बनाए। यह उनका 216वां छक्का था और उन्होंने रोहित शर्मा को पीछे छोड़ा। उन्होंने इसी के साथ भारत की तरफ से वनडे मैचों में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।

ऑस्ट्रेलिया ने उस्मान ख्वाजा (50) और ग्लेन मैक्सवेल (40) की उम्दा पारियों से 7 विकेट पर 236 रन बनाए। इसके जवाब में भारत ने 99 रनों पर 4 विकेट खो दिए थे, इसके बाद केदार जाधव (81 नाबाद) और धोनी (59 नाबाद) के बीच पांचवें विकेट के लिए हुई 141 रनों की अविजित भागीदारी की मदद से भारत ने 10 गेंद शेष रहते 6 विकेट से जीत दर्ज की।