मल्टीमीडिया डेस्क। ऑस्ट्रेलिया के शॉन मार्श शुक्रवार को भारत के खिलाफ एडिलेड में पहले टेस्ट मैच में मात्र 2 रन बनाकर आउट हुए। मार्श ने इस टेस्ट की पहली पारी में तो निराशाजनक प्रदर्शन किया ही लेकिन इस दौरान उनका नाम ऐसे बदनुमा रिकॉर्ड के साथ जुड़ गया जो 130 साल पहले बना था।

एडिलेड टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय गेंदबाजों ने अपनी दमदार गेंदबाजी के बूते मेजबान टीम के धुरंधर बल्लेबाजों की एक नहीं चलने दी। दूसरे दिन भारतीय स्पिनर आर अश्विन की गेंदबाजी देखते ही बन रही थी। अश्विन की घुमाव और उछाल के आगे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बेबस नजर आ रहे थे।

मार्श ने 11 महीने पहले सिडनी में इंग्लैंड के खिलाफ 156 रन बनाए थे उसके बाद से 13 टेस्ट पारियों में उनका सर्वाधिक स्कोर 40 रहा है। मार्श एडिलेड टेस्ट में मात्र 2 रन बनाकर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर बोल्ड हुए। यह लगातार छठी पारी थी जब वे दोहरी रन संख्या तक नहीं पहुंच पाए। 1888 के बाद वे ऐसा करने वाले पहले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बने।

35 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शॉन मार्श को जब भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया था तो कई सवाल खड़े हुए थे। ऐसे में शॉन मार्श को पहले टेस्ट के लिए जब अंतिम ग्यारह में जगह दी गई तो उनके उपर खुद को साबित करने का बड़ा दबाव था, लेकिन अश्विन ने उनके सपने को तोड़ दिया।

टेस्ट मैच में शॉन मार्श की पिछली छह पारियां

शॉन मार्श बेहद खराब फॉर्म में चल रहे हैं और इसी वजह से उन्हें भारत के खिलाफ टेस्ट टीम में शामिल करने का विरोध हुआ था। अब अपनी खराब बल्लेबाजी को जारी रखते हुए इस बल्लेबाज ने खतरा मोल ले लिया है। इसके बाद हो सकता है शायद वो अगले टेस्ट में अपनी टीम का हिस्सा ना बन पाएं। मार्श ने पिछले छह टेस्ट मैच की पारियों में दहाई का आंकड़ा नहीं छूआ है और इसकी शुरुआत इस वर्ष की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुआ था। मार्श द. अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 7 रन पर आउट हो गए थे। इसके बाद वो पाकिस्तान के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज की चार पारियों में 7,0,3,4 रन ही बना पाए थे। अब भारत के खिलाफ एडिलेड टेस्ट मैच की पहली पारी में वो 2 रन बनाकर आउट हो गए।

पिछली 13 पारियों में शॉन मार्श 8 बार दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए हैं। इन पारियों में उनका बेस्ट स्कोर 40 रन रहा है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें