जोहान्सबर्ग। जीत के रथ पर सवार टीम इंडिया शनिवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथे वनडे को जीतकर सीरीज पर पहली बार कब्जा जमाने के इरादे से मैदान में उतरेगी। दूसरी तरफ एबी डीविलियर्स की वापसी से उत्साहित मेजबान टीम सीरीज में अपनी उम्मीदों को बनाए रखने के लिए मोर्चा संभालेगी।

दक्षिण अफ्रीकी टीम अपने प्रमुख खिलाड़‍ियों की चोट की समस्या से जूझ रही है जिसका लाभ उठाकर भारत 3-0 की अपराजेय बढ़त बना चुका है। अब उसकी निगाहें द. अफ्रीका में पहली बार कोई सीरीज जीतने पर टिक गई है।

दक्षिण अफ्रीका में महेंद्रसिंह धोनी के नेतृत्व में टीम इंडिया 2010-11 में जीत के करीब पहुंची थी, जब उसने 2-1 की बढ़त बनाई थी, लेकिन इसके बाद द. अफ्रीका ने वापसी कर सीरीज पर 3-2 से कब्जा जमाया था। टीम इंडिया ने पिछले दिनों केपटाउन में ऐतिहासिक सफलता हासिल की थी जब उसने द. अफ्रीका में पहली बार किसी सीरीज में 3 मैच जीते थे। भारत अब चौथा मैच जीतने के साथ ही नंबर वन पर बने रहना सु‍निश्चित कर लेगा।

कप्तान विराट कोहली ने धमाकेदार प्रदर्शन का सिलसिला जारी रखते हुए तीसरे वनडे के दौरान 34वां शतक लगाया था। उन्होंने बताया था कि टीम अगले मैच में भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखकर दो मैच शेष रहते सीरीज अपने नाम करने उतरेगी।

भारतीय स्पिनरों का दबदबा : भारत के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल का सीरीज में दबदबा रहा है और ये दोनों अभी तक कुल 21 विकेट हासिल कर चुके हैं। द. अफ्रीका की अनुभवहीन बल्लेबाजी पंक्ति इन युवा भारतीय स्पिनरों के सामने टिक नहीं पा रही हैं। भारतीय टीम में इस मैच के लिए बदलाव की उम्मीद नहीं के बराबर है, लेकिन रोहित शर्मा को अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा। वे एकमात्र टीम की कमजोर कड़ी साबित हो रहे हैं।

मेजबान टीम उम्मीद कर रही होगी कि चोट से उबरकर टीम में वापसी करने वाले एबी डीविलियर्स पूरी तरह फिट होकर इस मैच के लिए मैदान में उतरे। डीविलियर्स चोट के चलते शुरुआती तीन वनडे में नहीं खेल पाए थे। उनके चौथे वनडे में खेलने के बारे में फैसला मैच से पहले लिया जाएगा। यदि डीविलियर्स फिट हुए तो वे तीसरे क्रम पर उतरेंगे जबकि जेपी डुमिनी चौथा क्रम संभालेंगे। डीविलियर्स के लिए डेविड मिलर या खाया जोंडो में ‍से किसी एक को जगह खाली करनी होगी।

टीमें (संभावित) - भारत : रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, केदार जाधव, हार्दिक पांड्‍या, महेंद्रसिंह धोनी, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल।

दक्षिण अफ्रीका : हाशिम अमला, ऐडन मार्करैम (कप्तान), एबी डीविलियर्स, जेपी डुमिनी, फरहान बेहारदीन, डेविड मिलर/खाया जोंडो, क्रिस मॉरिस, मोर्ने मॉर्केल, एंडिले फेहलुकवायो, कगिसो रबाडा, इमरान ताहिर।