सिडनी। चेतेश्वर पुजारा (193) दोहरे शतक से चूके लेकिन रिषभ पंत (159 नाबाद) ने दमदार शतक लगाते हुए भारत को शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। भारत ने पहली पारी 7 विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित की। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन की समाप्ति तक पहली पारी में 10 ओवरों में बिना कोई विकेट खोए 24 रन बना लिए हैं। मार्कस हैरिस 19 और उस्मान ख्वाजा 5 रन बनाकर क्रीज पर हैं। ऑस्ट्रेलिया अभी भी भारत के पहली पारी के स्कोर से 598 रन पीछे हैं जबकि उसके सभी विकेट शेष हैं।

भारत ने दूसरे दिन सुबह 303/4 से आगे खेलना शुरू किया। पुजारा ने लियोन की गेंद पर चौका लगाकर 150 रन पूरे किए। वे 282 गेंदों में 18 चौकों की मदद से इस मंजिल तक पहुंचे। हनुमा विहारी ज्यादा समय तक क्रीज पर नहीं टिक पाए और कल के स्कोर में 3 रन जोड़कर 42 रनों के निजी स्कोर पर आउट हो गए। उन्हें स्पिनर नाथन लियोन की गेंद पर शॉर्ट लेग पर मार्नस लाबुशेन के हाथों कैच आउट करार दिया गया। विहारी ने रिव्यू लिया लेकिन वे बच नहीं पाए। उन्होंने पुजारा के साथ पांचवें विकेट के लिए 101 रन जोड़े।

इसके बाद पुजारा को रिषभ पंत का साथ मिला और दोनों ने पहले सत्र में मेजबान गेंदबाजों को कोई और सफलता हासिल नहीं करने दी। टी के वक्त पुजारा 332 गेंदों में 21 चौके लगाकर 181 और पंत 2 चौकों की मदद से 27 रन बनाकर क्रीज पर हैं। चायकाल तक ये दोनों छठे विकेट के लिए 60 रनों की अविजित भागीदारी कर चुके थे।

दूसरे सत्र में पुजारा 373 गेंदों में 22 चौकों की मदद से 193 रन बनाकर लियोन की गेंद पर उन्हें रिटर्न कैच दे बैठे। वे टेस्ट क्रिकेट में अपने चौथे दोहरे शतक से चूके। पंत ने 85 गेंदों में 4 चौकों की मदद से फिफ्टी पूरी की। वे टी तक 88 रन बनाकर क्रीज पर हैं।

पंत ने लाबुशेन की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। उन्होंने 137 गेंदों में 8 चौकों की मदद से शतक पूरा किया। यह उनका 9 टेस्ट मैचों के करियर में दूसरा शतक है। उन्होंने इससे पहले इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट मैच में 114 रन बनाए थे। पंत ने जोस हेजलवुड की गेंद पर चौका लगाकर अपने 150 रन पूरे किए। वे 185 गेंदों में 14 चौकों और 1 छक्के की मदद से इस मंजिल तक पहुंचे।

रवींद्र जडेजा ने नाथन लियोन की गेंद पर छक्का लगाकर फिफ्टी पूरी की। यह उनकी 10वीं टेस्ट फिफ्टी हैं। जडेजा 81 रन बनाकर लियोन की गेंद पर बोल्ड हुए। उन्होंने 7 चौकों और 1 छक्के की मदद से 81 रन बनाए। पंत और जडेजा ने सातवें विकेट के लिए 204 रनों की साझेदारी की। इसी के साथ 622/7 के स्कोर पर भारत ने पारी घोषित कर दी। पंत 189 गेंदों में 15 चौकों और 1 छक्के की मदद से 159 रन बनाकर नाबाद रहे। यह किसी एशियाई विकेटकीपर का एशिया के बाहर सर्वाधिक स्कोर है। उन्होंने मुश्फिकुर रहीम की बराबरी की जिन्होंने वेलिंगटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ 2017 में 159 रन बनाए थे। ऑस्ट्रेलिया के नाथन लियोन सबसे सफल गेंदबाज रहे, उन्होंने 178 रनों पर 4 विकेट लिए।