ओवल। इंग्लैंड के हाथों टेस्ट सीरीज 1-4 से गंवाने के बावजूद भारतीय कप्तान विराट कोहली टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट नजर आए। उन्होंने कहा कि स्कोर लाइन से यह नहीं मानना चाहिए कि हमारी टीम ने खराब प्रदर्शन किया।

विराट ने कहा, इस मैच में हमारे दो युवा खिलाड़ियों ने चुनौती स्वीकारी और किला लड़ाया। इन्होंने दर्शकों का जमकर मनोरंजन किया। संभवत: यह टेस्ट क्रिकेट का पुनर्जीवन है। यह टेस्ट क्रिकेट का शानदार प्रचार है। हमने सुबह इस मैच को जीतने के बारे में नहीं सोचा था, हमारा इरादा तो अपना नैसर्गिक प्रदर्शन करने का था। जब इन दोनों (राहुल और पंत) ने स्ट्रोक्स खेलने शुरू किए तो हमें जीत की उम्मीद नजर आई था, लेकिन हम जानते थे कि इंग्लैंड प्रोफेशनल टीम है और दो-तीन ओवरों में मैच का रूख बदल सकता है।

यह टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाड़ी एलिस्टेयर कुक का आखिरी मैच था और भारतीय कप्तान ने इस मौके पर उन्हें शानदार क्रिकेट करियर के लिए बधाई दी। कोहली ने कहा, ‘कुक के लिए केवल एक शब्द कहना चाहूंगा आपका करियर बेहतरीन रहा है। भविष्य के लिए आपको शुभकामनाएं।’ वहीं कुक ने कहा कि 'उनका आखिरी मैच इससे बेहतर नहीं हो सकता था क्योंकि उन्होंने भारत के खिलाफ शतक के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा।'

उन्होंने कहा, सैम करैन को हमने इंग्लैंड का मैन ऑफ द मैच इसलिए चुना क्योंकि उन्होंने सीरीज में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इस युवा खिलाड़ी ने पहले और चौथे टेस्ट में मेजबान टीम को ड्राइवर सीट पर पहुंचाया।