हैदराबाद। डेब्यू टेस्ट खेलने की भारतीय तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर की खुशी ज्यादा नहीं टिक पाई क्योंकि वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के पहले दिन उन्हें चोट के चलते मैदान से बाहर जाना पड़ा। शार्दुल को मात्र 10 गेंद डालने के बाद ग्रोइन की चोट के चलते पैवेलियन लौटना पड़ा।

शार्दुल मैच के चौथे ओवर की चौथी गेंद किरोन पॉवेल को डालने के तुरंत बाद जबर्दस्त दर्द में दिखे, इस गेंद को पॉवेल ने बैकवर्ड पाइंट पर खेला था। फिजियो पेट्रिक फरहर्ट मैदान में आए और शार्दुल से बातचीच की। यह भारतीय तेज गेंदबाज ग्रोइन में खिंचाव के कारण दर्द में दिखा और कप्तान विराट कोहली से बात करने के बाद वे मैदान से बाहर चले गए। रविचंद्रन अश्विन ने उनके ओवर की दो गेंद डाली।

26 वर्षीय शार्दुल के मैच में आगे खेलने के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। 26 वर्षीय शार्दुल भारत की तरफ से टेस्ट खेलने वाले 294वें खिलाड़ी बने। वे पहले टेस्ट में भी अंतिम 12 में शामिल थे लेकिन प्लेइंग इलेवन में वह जगह नहीं बना सके थे। शार्दुल इस साल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले भारत के पांचवें खिलाड़ी बने। इस साल ठाकुर से पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जसप्रीत बुमराह, इंग्लैंड दौरे पर रिषभ पंत और हनुमा विहारी, वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में पृथ्वी शॉ ने डेब्यू किया था। यह दूसरा मौका है जब टीम इंडिया के इतने ज्यादी खिलाड़ियों ने एक साल में टेस्ट डेब्यू किया हो। इससे पहले साल 2013 में भी टीम इंडिया के 5 खिलाड़ियों ने अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था। 2013 में मोहम्मद शमी, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, शिखर धवन और भुवनेश्वर कुमार ने डेब्यू किया था।

वैसे शार्दुल भारत का वनडे और टी-20 क्रिकेट में प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। उन्होंने अपना पहला वनडे पिछले साल अगस्त में श्रीलंका के खिलाफ किया था। वे 5 वनडे मैचों में 33.66 की औसत से 6 विकेट ले चुके हैं। उन्होंने अपना पहला टी-20 मैच इसी साल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। वे अभी तक 7 टी20 मैचों में 30.25 की औसत से 8 विकेट हासिल कर चुके हैं।