मोहाली। महेंद्रसिंह धोनी रविवार को लंबे अंतराल के बाद आईपीएल 2018 के मुकाबले में फॉमे में दिखे। धोनी आईपीएल करियर की अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी (79 नाबाद) के बावजूद चेन्नई सुपर किंग्स को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ जीत नहीं दिला पाए। उतार-चढ़ाव से भरे इस मैच में सीएसके को 4 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

इस मैच में एक समय ऐसा लग रहा था मानो चेन्नई ने आत्मसमर्पण कर दिया है, लेकिन अंतिम क्षणों में धोनी की तूफानी बल्लेबाजी से किंग्स इलेवन के समर्थकों की जैसे सांसें थम सी गई थी। किंग्स इलेवन के 197/7 के जवाब में सीएसके 5 विकेट पर 193 रन बना पाया।

इस हार के बाद कप्तान धोनी ने सीएसके की हार की वजह का खुलासा किया। उन्होंने कहा, 'किंग्स इलेवन के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और युवा स्पिनर मुजीबुर रहमान की गेंदबाजी ने मैच के परिणाम को प्रभावित किया। मुझे लगा था कि दूसरी पारी में ओस की अहम भूमिका रहेगी, लेकिन यह ज्यादा नहीं रहीं। क्रिस गेल की बल्लेबाजी और मुजीब की बल्लेबाजी ने किंग्स इलेवन की जीत में अहम भूमिका निभाई।'

धोनी ने कहा, हार करीबी रही यह ज्यादा महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे लगता है कि आप कोशिश कर रहे थे। बाउंड्री आसानी से लग रही थी, इसलिए हमें यह देखना होगा कि किस तरह की गेंद नहीं डालनी है। हमारे सभी मैच नजदीकी रहे हैं , इसलिए हमें खेल के कई क्षेत्रों में सुधार करना होगा।

कौन हैं मुजीबुर रहमान : मुजीबुर रहमान अफगानिस्तान के 17 वर्षीय स्पिनर है। यह उनका पहला आईपीएल है और उन्होंने तीन मैचों में ही अपनी छाप छोड़ दी है। मुजीब ने 13 अप्रैल को चिन्नास्वामी स्टेडियम में महान बल्लेबाज विराट कोहली को बोल्ड कर सनसनी मचा दी थी। अब उन्होंने अपनी गेंदबाजी से पूर्व भारतीय कप्तान धोनी को भी प्रभावित किया। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ पारी के मध्य में उन्होंने 3 ओवरों में मात्र 18 रन दिए और मेहमान बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रखा।