नई दिल्ली। भारतीय टीम ने हाल ही में खत्म हुए अपने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजलैंड दोरे पर कमाल दिखाया है।न्यूजीलैंड दौरे टीम इंडिया में दोनी और दीनेश कार्तिक के अलावा रिषभ पंत भी शामिल ते। इस दौरे पर टीम के प्रदर्शन के बाद विश्व कप को लेकर कयास लगने शुरू हो गए हैं।

वहीं, दूसरी तरफ विश्व कप शुरू होने में साढ़े तीन महीने से भी कम वक्त बचा है। ऐसे में भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने विश्वकप टीम में रिषभ पंत (Rishabh Pant) को शामिल करने को लेकर बड़ा बयान दिया है। प्रसाद ने कहा कि पंत के फॉर्म ने अच्छा सिरदर्द पैदा किया है। उन्होंने कहा कि विश्वकप में पंत को बतौर बल्लेबाज टीम के साथ भेजा जा सकता है।

न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के दौरान भारतीय टीम तीन विकेटकीपरों के साथ खेल रही थी। इस सीरीज में महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) विकेटकीपर और दिनेश कार्तिक (Dinesh Kartik) और रिषभ पंत बतौर बल्लेबाज के तौर पर टीम में खेल रहे थे।

विकेटकीपर के तौर पर धोनी पहली पसंद

प्रसाद ने कहा कि सीमित ओवरों के क्रिकेट में विकेटकीपर के तौर पर धोनी पहली पसंद हैं। कार्तिक ने खुद को एक लोअर मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज के तौर पर टीम में स्थापित कर लिया है। वे किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं। हालांकि, पंत ने केवल तीन वनडे मैच खेले हैं, लेकिन उनकी लंबे शॉट मारने की काबीलियत और टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन से वो विश्वकप टीम के दौड़ में शामिल हो गए हैं।

प्रसाद ने कहा, 'बिना किसी शक के वो रेस में हैं, वो हमारे लिए पॉज़ीटिव अप्रोच वाला खिलाड़ी है। पिछले एक साल में उसने जिस तरह का प्रदर्शन किया है वो शानदार है। अब हम जो चाहते हैं वो बस इतना कि वो परिपक्वता दिखाए। इसलिए हमने उसे इंडिया ए टीम में भी शामिल किया।'

विजय शंकर और अंजिक्य रहाणे भी रेस में

प्रसाद ने कहा कि विजय शंकर चौथे ऑलराउंडर के रूप में 20 खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हैं, जिनमें से 15 का चयन किया जाना है। प्रसाद ने शंकर पर कहा, 'उसे जो भी मौके मिले हैं उसने वहां पर खुद को साबित किया है। हमने उसे पिछले दो साल में इंडिया ए के दौरों के साथ तैयार किया है। हमें देखना होगा कि वो टीम में कहां फिट बैठता है।'

एक साल पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी बार वनडे खेलने वाले अंजिक्य रहाणे को लेकर भी मुख्य चयनकर्ता ने संभावनाएं जताई हैं। दरअसल रहाणे ने इस सीज़न लिस्ट ए क्रिकेट में खेली 11 पारियों में 74.62 के बेहतरीन औसत से 597 रन बनाए हैं। इसमें दो शतक और 3 अर्धशतक भी शामिल है। इनमें से दो अर्धशतक तो इंडिया के लिए इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज़ के दौरान आए हैं। केएल राहुल के टीम से बाहर होने और उनकी गिरती फॉर्म की वजह से रहाणे को बैकअप ओपनर के रूप में टीम में शामिल हो सकते हैं।

इंग्लैंड में होगा विश्वकप

बता दें कि इस साल 30 मई से इंग्लैंड में क्रिकेट विश्वकप खेला जाना है। भारत का पहला मैच 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के साथ साउथेम्प्टन में होगा। विश्वकप का फाइनल मुकाबला 14 जुलाई को खेला जाएगा।