नई दिल्ली। शेन वॉर्न को रक्षात्मक गेंदबाज पसंद नहीं हैं और इसी के चलते भारत के कुलदीप यादव, पाकिस्तान के यासिर शाह और अफगानिस्तान के राशिद खान उनके पसंदीदा स्पिनर्स हैं क्योंकि ये रन लुटाने से डरते नहीं है।

पिछले कुछ वर्षों में कलाई के स्पिनरों का सीमित ओवरों के क्रिकेट में दबदबा रहा है और वॉर्न यह मानने को राजी नहीं है कि इनका महत्व कम होता जा रहा है। राजस्थान रॉयल्स के ब्रांड एम्बेसडर वॉर्न ने कहा, स्पिनर तो स्पिनर ही होता है फिर चाहे वह कलाई का स्पिनर हो या उंगली का। मेरे समय में सकलैन मुश्ताक, मुथैया मुरलीधरन और डेनियल विटोरी जैसे अच्छे उंगली के स्पिनर थे। टीम में कलाई का स्पिनर होने का अलग ही फायदा है।

उन्होंने कहा, यदि आपके पास अच्छा कलाई का स्पिनर हो तो वो हमेशा विकेट दिलाएगा। वे भले ही दूसरे गेंदबाजों से कुछ ज्यादा रन लुटाएंगे लेकिन वे आपको मध्य ओवरों में विकेट दिलाएंगे। सीमित ओवरों के क्रिकेट में उनके पसंदीदा स्पिनर्स कौन हैं, इस बारे में पूछने पर वॉर्न ने कुलदीप, राशिद और यासिर के नाम लिए। ये तीनों इस समय के उम्दा गेंदबाज हैं इन्हें गेंदबाजी करते हुए देखना उन्हें पसंद हैं।

वॉर्न ने कहा, मैं इन तीनों को विश्व कप में एक-दूसरे के खिलाफ खेलते देखना चाहता हूं। मैं उन्हें बल्लेबाजों को भ्रमित करते हुए देखना पसंद करूंगा।

वॉर्न ने कहा कि वे खराब फॉर्म में चल रहे रिषभ पंत को स्पेशलिस्ट बल्लेबाज के रूप में विश्व कप में खेलते देखना पसंद करेंगे। इससे यह लाभ होगा कि जब महेंद्रसिंह धोनी संन्यास लेंगे तो उनकी जगह लेने को पंत तैयार रहेंगे। धोनी महान खिलाड़ी हैं। वे विश्व कप में खेलेंगे और जब स्थिति खराब होती है तो विराट को धोनी की नेतृत्व क्षमता की आवश्यकता होती है। धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में पंत को तैयार करना चाहिए ताकि धोनी के संन्यास के बाद वे उनकी जगह ले सके।