मल्टीमीडिया डेस्क। कोलकाता नाइटराइडर्स के कैरेबियाई स्पिनर सुनील नरेन ने सोमवार को अपनी टीम को आईपीएल 2018 में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। नरेन ने इस मैच में 18 रनों पर 3 विकेट झटके, वैसे उनके लिए यह मैच दूसरी वजह से खास बन गया। नरेन ने इस मैच के दौरान ऐसा करिश्मा किया जो अभी तक आईपीएल इतिहास में कोई विदेशी स्पिनर नहीं कर पाया था।

नरेन के इस मैच से पहले आईपीएल में 99 विकेट थे और उन्होंने अपने 86वें आईपीएल में 100 का जादुई आंकड़ा छू लिया। नरेन यह करिश्मा करने वाले दुनिया के दसवें गेंदबाज बने। वे यह करिश्मा करने वाले तीसरे विदेशी और पहले विदेशी स्पिनर भी हैं।

नरेन ने दिल्ली डेयरडेविल्स के क्रिस मॉरिस (2) को बोल्ड कर 100वां शिकार किया। वे इतने पर संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने इसके बाद विजय शंकर (2) को एलबीडब्ल्यू किया और फिर मोहम्मद शमी को रसेल के हाथों झिलवाया। इस तरह नरेन के नाम कुल 86 मैचों में 20.71 की औसत से 102 विकेट हो चुके हैं।

मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलने वाले श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा के नाम आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेटों का कीर्तिमान दर्ज है। मलिंगा ने 110 मैचों में 154 विकेट लिए थे। इस समूह में शामिल दूसरे विदेशी गेंदबाज हैं ड्‍वेन ब्रावो जो 123 विकेटों के साथ सूची में पांचवें क्रम पर हैं।

भारत के अमित मिश्रा (134) दूसरे, पीयूष चावला (130) तीसरे और हरभजन सिंह (129) चौथे क्रम पर हैं। भुवनेश्वर कुमार (115) छठें, आशीष नेहरा (106) सातवें, आर विनय कुमार (105) आठवें और रविचंद्रन अश्विन (104) नौवें क्रम पर हैं।