नई दिल्ली। आईपीएल खत्म होते ही विराट कोहली काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए इंग्लैंड कूच कर जाएंगे। इंग्लैंड दौरे से पहले विराट सरे काउंटी की तरफ से मैच खेलेंगे। इसे लेकर सरे काउंटी मैनेजमेंट काफी उत्साहित है।

शेन वॉर्न के बाद, जो 11 साल पहले हैंपशर की तरफ से खेले थे। विराट कोहली बड़ा आकर्षण होंगे। इंग्लैंड दौरे के लिए खुद को तैयार करने के लिए कोहली यहां 6 मैच खेलेंगे। जिसमें पचास ओवरों के मुकाबलों के अलावा चार दिवसीय मैच भी खेलेंगे।

कोहली केवल यहां केवल मैच ही नहीं खेलेंगे, बल्कि सरे काउंटी की तरफ से खेल रहे खिलाड़ियों को भी उनके काफी सीखने को मिलेगा। खासतौर पर फिटनेस को लेकर इंग्लिश काउंटी के खिलाड़ियों को कोहली से काफी टिप्स मिलने की उम्मीद है।

कोहली की फिटनेस को लेकर इंग्लैंड के ऑलराउंडर और उनकी आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के सदस्य क्रिस वोक्स ने खुलासा किया है।

वोक्स के मुताबिक, "कोहली मैच के लिए निकलने से ठीक आधा घंटा पहले जिम में जमकर पसीना बहाते हैं। ये सेशन ठीक वैसा रहता है, जैसा ओलिंपिक वेटलिफ्टर वजन उठाने से पहले तैयारी करते हैं। ये कोहली के काम भी आता है। उन्होंने भी माना कि कोहली की फिटनेस ने भारत के युवा क्रिकेटर्स पर भी गहरी छाप छोड़ी है। कोहली वाकई फिट और काफी तेज हैं, जो भारतीय क्रिकेट में पहले कभी नहीं हुआ है"। ऐसे में सरे काउंटी की तऱफ से खेलने वाले खिलाड़ियों के लिए ये अच्छा अनुभव होगा।

कोहली एक जून को केंट के खिलाफ बेकहेनहम में होने वाले मैच में सरे की तरफ से डेब्यू करेंगे। कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में 53.40 की औसत से 5554 रन बनाए हैं। वहीं वनडे क्रिकेट में उनके बल्ले से अब तक 9588 रन बनाए हैं। हालांकि इंग्लैंड में कोहली का बल्ला ज्यादा नहीं बोला है। कम से कम भारतीय टीम के पिछले इंग्लैंड दौरे में तो कोहली का बल्ला खामोश ही रहा था। इंग्लैंड में खेली दस पारियों में कोहली ने सिर्फ 134 रन बनाए हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के इंग्लैंड दौरे की शुरुआत 3 जुलाई को होने वाले टी20 मैच से होगी। भारत इस दौरे पर तीन टी20 मैच, तीन वनडे और पांच टेस्ट खेलेगा। पहला टेस्ट मैच 1 अगस्त से बर्मिंघम में खेला जाएगा।