सिडनी। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने स्पष्ट कहा है कि वह एक बार संन्यास लेने के बाद फिर कभी बल्ला नहीं पकड़ेंगे। विराट कोहली से सिडनी में मीडियाकर्मियों ने उनके रिटायरमेंट प्लान के बारे में जब पूछा तो विराट ने अपने मन की बात साझा की।

कंगारू टीम के खिलाफ होने वाले पहले वनडे मैच से पहले विराट ने कहा कि मुझे नहीं पता कि भविष्य में क्या होगा और इस तरह की बातों में बदलाव आने वाला है या नहीं लेकिन जहां तक मेरी बात है तो रिटायरमेंट के बाद मैं और क्रिकेट खेलने के पक्ष में तो बिल्कुल भी नहीं हूं।

आपको बता दें कि क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद कई खिलाड़ी दुनिया में होने वाले लीग मैचों में खेल रहे हैं लेकिन विराट ने कहा कि वो इन खिलाड़ियों की कतार में नहीं खड़े होना चाहते हैं। विराट ने बताया कि पिछले पांच वर्षो में मैंने काफी क्रिकेट खेला है और मैं इस पर अभी कुछ नहीं कह सकता कि क्रिकेट छोड़ने के बाद मैं पहला काम क्या करूंगा क्योंकि मुझे नहीं लगता कि मैं दोबारा बल्ला उठाउंगा।

विराट ने कहा कि जब मैं क्रिकेट खेलना बंद कर दूंगा उस दिन मेरी सारी उर्जा खत्म हो चुकी होगी और यही वजह से ही मैं क्रिकेट खेलना छोड़ दूंगा। इस वजह से मुझे लगता है कि मैं फिर से मैदान पर उतरकर खेल पाउंगा या फिर ऐसी कोई संभावना है।

विराट ने भारतीय टीम की बल्लेबाजी के बारे में कहा कि टीम की बल्लेबाजी शानदार है विश्व कप से पहले हमारी बल्लेबाजी काफी मजबूत नजर आ रही है। पिछले एक वर्ष में वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम की बल्लेबाजी काफी मजबूत रही है और इसमें ओपनर्स की बड़ी भूमिका रही है।

बीच में कुछ वक्त ऐसा रहा जब हमें मध्यक्रम में थोड़ी परेशानी झेलनी पड़ी लेकिन हमने उस समस्या का समाधान किया और 25 से 40 ओवर तक अपनी बल्लेबाजी शैली में बदलाव करने की कोशिश की। विराट का मानना है कि इस वक्त भारतीय टीम बेहद संतुलित है और सभी डिपार्टमेंट में शानदार नजर आ रही है।