लंदन (एजेंंसियां)। आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में भारतीय बल्लेबाज शिखर धवन अंगूठे में चोट के कारण फिलहाल बाहर हो गए हैं। उनके विश्व कप में आगे खेलने-नहीं खेलने को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं, ऐसे में शिखर ने पहली बार चोट पर प्रतिक्रिया दी है। शिखर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर डॉ. राहत इंदौरी का एक शेर पोस्ट करते हुए अपने इरादे जाहिर किए कि वे ऐसी स्थिति से हार मानने वालों में से नहीं हैं और उनके लिए अभी विश्व कप खत्म नहीं हुआ है।

गौरतलब है कि अंगूठे में फ्रेक्चर के कारण शिखर करीब 3 सप्ताह के लिए बाहर हो गए हैं। शिखर अच्छी लय में हैं और उन्होंने पिछले मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक भी जमाया था। ऐसे में जब टीम इंडिया को विश्व कप में कई बड़े मैच खेलने हैं लेकिन वे चोटिल हो गए। ऐसे में उनका दर्द पहली बार जाहिर हुआ। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर डॉ. राहत इंदौरी के एक शेर की कुछ लाईनें ट्वीट कर अपने इरादे जाहिर किए।

शिखर ने लिखा - कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते हैं, कभी धुएं की तरह हम पर्वतों से उड़ते हैं, ये कैंचियां हमें उड़ने से खाक रोकेंगी, कि हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं। शिखर ने इस पोस्ट के जरिए अपने इरादे जाहिर किए हैं कि वे ऐसी चुनौतियों से घबराने वालों में से नहीं हैं। वे जल्द ही विश्व कप में वापसी करेंगे क्योंकि उनके लिए विश्व कप अभी खत्म नहीं हुआ है। शिखर पहले भी राहत इंदौरी के शेर को अपने पोस्ट में उपयोग कर चुके हैं।

उधर शिखर के बैकअप के रुप में बोर्ड ने युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को इंग्लैंड रवाना किया है। हालांकि अभी तक पंत को टीम में शामिल नहीं किया गया है और शिखर को भी टीम के साथ ही बने रहने के निर्देश दिए हैं।