मॉस्को। इंग्लैंड को सेमीफाइनल में हराने के बाद क्रोएशियाई मैनेजर ज्लाटिको डालिक ने कहा कि फ्रांस के खिलाफ विश्व कप फाइनल में थकान कोई मसला नहीं होगा। क्रोएशियाई टीम ने पिछले दो सप्ताह में डेनमार्क और मेजबान रूस के खिलाफ मुकाबले पेनल्टी शूटआउट में जीते थे।

डालिक ने कहा, "यह शानदार था। अतिरिक्त समय में कोई भी मैदान से बाहर नहीं जाना चाहता था। यह खिलाड़ियों का जज्बा दिखाता है। किसी ने अंतिम समय तक हार नहीं मानी।"

उन्होंने कहा, "हम फाइनल के लिए तैयार थे और हैं। अतिरिक्त समय तक खेलने से दिक्कत हो सकती है जबकि दूसरी ओर फ्रांस को अतिरिक्त समय आराम के लिए मिल गया लेकिन फिर भी हम तैयार हैं। हम इसे टूर्नामेंट के पहले मैच की तरह खेलेंगे।" उन्होंने कहा, "हमारी टीम खेल के सभी पहलुओं में बेहतर थी। मैंने खिलाड़ियों से कहा कि कोई दबाव नहीं लेना है। अपने खेल का पूरा मजा लो और उन्होंने वही किया।" एक छोटे से देश के लिए फुटबॉल के सबसे बड़े समर में खिताबी मुकाबले तक पहुंचना बड़ी बात है। कोच ने कहा, "क्रोएशिया के लिए और देश के फुटबॉल के लिए यह इतिहास रचने वाला पल है। हमें अक्टूबर में इंग्लैंड से लीग ऑफ नेशंस खेलना है। हमारे यहां मैच खेलने के लिए अच्छा स्टेडियम भी नहीं है लेकिन हमारे पास जज्बा और प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं।"