रोम। जुवेंट्स ने एएस रोमा के खिलाफ गोलरहित ड्रॉ खेलकर लगातार सातवीं और कुल 34वीं बार सिरी ए खिताब अपने नाम किया। इसी के साथ उसने चौथा लीग और कप का डबल भी पूरा कर लिया।

चिर प्रतिद्वंद्वी नेपोली हालांकि खिताब की दावेदार मानी जा रही थी। उसने सैंपडोरिया के खिलाफ 2-0 से क्लब रिकॉर्ड बनाते हुए जीत दर्ज की, लेकिन वह एक मैच शेष रहते हुए जुवेंट्स से चार अंक पीछे रह गई और खिताब से चूक गई। जुवेंट्स के 40 वर्षीय गोलकीपर जियानलुइगी बुफन गुरुवार को संन्यास की घोषणा कर सकते हैं।

नेपोली के मैच के दूसरे हाफ में कुछ समर्थकों ने नपोली विरोधी नारे लगाकर मैच में खलल भी डाला। टीम तीन सत्रों में दूसरी बार कोच मोरिजियो सारी के मार्गदर्शन में उपविजेता के तौर पर समापन करेगी। जुवेंट्स ने रिकॉर्ड 34वीं बार सिरी ए खिताब अपने नाम किया और साथ ही कोच मैसिमिलानो एलेग्री के मार्गदर्शन में चार घरेलू सत्रों में अपने अपराजेय रिकॉर्ड को भी कायम रखा। तीसरे स्थान पर रही रोमा ने चैंपियंस लीग के अगले सत्र के लिए क्वालीफाई किया। रोमा को मैच के आखिरी 20 मिनट से पहले रादजा नैनगोलन को रेड कार्ड दिखाए जाने के कारण टीम को 10 खिलाड़ियों के साथ शेष मैच खेलना पड़ा था। जुवेंट्स ने एसी मिलान को 4-0 से हराकर इटालियन कप का खिताब भी अपने नाम किया था।

नेमार ब्राजील की विश्व कप टीम में

साओ पाउलो । स्टार स्ट्राइकर नेमार को अगले महीने रूस में होने वाले फीफा विश्व कप के लिए ब्राजील की 23 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है। नेमार अपने दाएं पैर में लगी चोट से उबर रहे हैं। नेमार के अलावा टायसॉन फ्रेडरिको और सैंटोस रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर शामिल किया गया हैं। हालांकि ब्राजील टीम के कोच टिटे ने विश्व क्वालीफायर मैचों के लिए सोमवार को टीम का एलान किया। टीम में एलीसन, मिरांडा, मार्कोस, मार्सेलो, कैसेमिरो, पौलिन्हो, रेनाटो आगस्टो, फिलिप कोटिन्हो, नेमार और गेब्रियल जीसस शामिल हैं। ब्राजील विश्व कप में अपने अभियान की शुरुआत 17 जून को स्विट्जरलैंड के खिलाफ करेगा।

इजरायली क्लब ट्रंप के लिए बदलेगा अपना नाम

यरुशलम। इजरायल का सबसे मशहूर फुटबॉल क्लब बीटार यरुशलम अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में क्लब का नाम बदलकर बीटार ट्रंप करेगा। यरुशलम में अमेरिकी दूतावास के शुभारंभ के बाद क्लब ने इसकी घोषणा की। क्लब का पहले नाम बीटार यरुशलम था और यह ट्रंप को जोड़कर बीटार ट्रंप यरुशलम हो जाएगा। क्लब ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इजरायली लोगों को लेकर जो प्यार दिखाया है उससे हम खुश हैं। हम उनके सम्मान के लिए क्लब का नाम बदलना चाहते हैं। बीटार छह बार का इजरायली लीग का चैंपियन है।