सेंट पीटर्सबर्ग। फ्रांस ने मंगलवार को फुटबॉल विश्व कप के सेमीफाइनल में बेल्जियम को 1-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। अब यदि फ्रांस खिताब जीत लेगा तो मैनेजर डिडिएर डेशचैंप्स भी इतिहास रच देंगे। वे खिलाड़ी और कोच/मैनेजर के तौर पर विश्व कप जीतने वाले तीसरे ‍व्यक्ति बन जाएंगे।

डेशचैंप्स से पहले ब्राजील के मारियो जगालो और जर्मनी के फ्रेंक बेकनबॉर यह करिश्मा कर चुके हैं। इस उपलब्धि को सबसे पहले जगालो ने हासिल किया था। उन्होंने 1958 और 1962 में खिलाड़ी के रूप में विश्व कप जीता और फिर 1970 में मैनेजर के रूप में विश्व कप हासिल किया। उन्होंने 1994 में असिस्टेंट मैनेजर के रूप में भी यह खिताब हासिल किया। जगालो के इस रिकॉर्ड की बेकनबॉर ने बराबरी की। उन्होंने 1974 में कप्तान के रूप में विश्व कप जीतने के बाद 1990 में कोच के रूप में खिताब हासिल किया।

फ्रांस ने 1998 में विश्व कप जीता था, उस वक्त डेशचैंप्स टीम के कप्तान थे। अब 20 साल बाद वे टीम के मैनेजर हैं और उनके पास इतिहास रचने का मौका है। यदि फ्रांसिसी टीम ने रविवार को जीत दर्ज की तो डेशचैंप्स भी इस स्पेशल ग्रुप में शामिल हो जाएंगे।

अपने खिलाड़‍ियों से खुश डेशचैंप्स

फाइनल में पहुंचने के बाद डेशचैंप्स ने कहा कि मैं अपने खिलाडि़यों के लिए बेहद खुश हूं। बेल्जियम की टीम के खिलाफ कड़ा मुकाबला था। मैं अपने खिलाडि़यों और कोचिंग स्टाफ को सलाम करता हूं। हमें फाइनल जीतना ही होगा क्योंकि हम अब तक दो साल पहले मिली एक बड़ी हार के सदमे से नहीं उबर पाए हैं।

बेल्जियम के कोच की निगाहें अब यूरो कप पर

सेमीफाइनल में फ्रांस के खिलाफ हारने वाली बेल्जियम की टीम निराश है। टीम के पास पहली बार विश्व कप फाइनल खेलने का मौका था जिसे वह बेहद करीब से चूक गई लेकिन बेल्जियम के कोच रॉबर्टो मार्टिनेज को भरोसा है कि उनकी टीम 2020 यूरोपीयन चैंपियनशिप में एक बार फिर अपने सुनहरे दौर के साथ मैदान पर वापस लौटेगी। मार्टिनेज ने कहा कि बेल्जियम की टीम में प्रतिभाशाली युवा खिलाडि़यों आ रहे हैं और मेरी नजर यूरो कप 2020 पर है।