नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ इस साल के बाद हॉकी सीरीज टूर्नामेंट नहीं कराएगा ताकि सदस्य संघ उपमहाद्वीपीय क्वालीफायर और चैंपियनशिप पर ध्यान केंद्रित कर सकें। प्रो लीग के पहले सत्र को सफल बताते हुए एफआईएच ने कहा कि इस साल के बाद हॉकी सीरीज टूर्नामेंट नहीं होंगे जो विश्व कप और ओलिंपिक क्वालीफायर भी होते हैं। इसकी बजाय अधिक जो उपमहाद्वीपीय क्वालीफिकेशन टूर्नामेंटों पर होगा। यह फैसला नरिंदर बत्रा की अध्यक्षता में 15 और 16 मार्च को एफआईएच कार्यकारी बोर्ड की साल की पहली बैठक में लिया गया।

एफआईएच सीरीज टूर्नामेंट 2019 के बाद से नहीं होंगे जिससे राष्ट्रीय संघ उपमहाद्वीपीय क्वालीफायर और चैंपियनशिप पर अपना ध्यान लगा सकें। विश्व कप क्वालीफिकेशन प्रक्रिया की भी समीक्षा की जाएगी। पिछले साल शुरू हुई हॉकी सीरीज में वे सभी टीम हैं, जो पुरुष और महिला प्रो लीग का हिस्सा नहीं है। इसमें दो राउंड ओपन और फाइनल होंगे। एफआईएच रैंकिंग की शीर्ष नौ टीम सीधे फाइनल्स खेलेंगी जबकि बाकी टीम ओपन राउंड खेलेंगी।