भुवनेश्वर। फ्रांस ने पूल-ए में ओलिंपिक स्वर्ण पदक विजेता अर्जेंटीना को 5-3 से हराकर बड़ा उलटफेर किया। इस जीत के साथ फ्रांस ने पूल-ए में दूसरे स्थान पर रहते हुए क्रॉसओवर में जगह बनाई। वहीं, हार के बावजूद अर्जेंटीना पूल में शीर्ष पर रहा और उसने सीधे क्वार्टर फाइनल खेलने का हक पाया। फ्रांस की जीत के साथ स्पेन की टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

पहले क्वार्टर में अर्जेंटीना ने दबदबा बनाया। 18वें मिनट में ह्यूगो जेनेस्टेट ने गोल कर फ्रांस को आगे कर दिया।दूसरे क्वार्टर में पांच गोल हुए, जिसमें से चार फ्रांस ने किए। फ्रांस को 23वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला। इस पर विक्टर चार्लेट ने गोल कर फ्रांस को 2-0 से आगे कर दिया। तीन मिनट बाद अरिस्टिडे कोइस्ने ने फ्रांस को 3-0 से आगे कर दिया। अर्जेंटीना की ओर से लुकास मार्टिनेज ने 28वें मिनट में गोल दागा। इस क्वार्टर के आखिरी मिनट में गैसपार्ड बाउमार्गटेन ने बेहतरीन पास पर डाइव मार गेंद को नेट में डाल फ्रांस को 4-1 की मजबूत बढ़त दिला दी।

अर्जेंटीना को तीसरे क्वार्टर में 43वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला, जिस पर गोंजालो पीलाट ने अपनी टीम का दूसरा गोल दागा। चौथे क्वार्टर में गोंजालो ने 48वें मिनट में एक और पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलकर अर्जेंटीना के लिए तीसरा गोल किया। 54वें मिनट में फ्रांकोइस गोएट ने गेंद को नेट में डाल फ्रांस को 5-3 से आगे कर दिया और यहां से अर्जेंटीना के लिए वापसी करना मुश्किल हो गया।

क्या है क्रॉसओवर

विश्व कप में खेल रहीं 16 टीमों को चार पूलों में रखा गया है। प्रत्येक पूल में चार टीमें हैं। प्रत्येक पूल से शीर्ष पर रहने वाली टीम सीधे क्वार्टर फाइनल खेलेगी। पूल-ए में दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमें पूल-बी में तीसरे और दूसरे स्थान की टीमों से मैच खेलेगी। इसे ही क्रॉसओवर का नाम दिया गया है। इसी तरह पूल-सी में दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमें पूल-डी में तीसरे और दूसरे स्थान पर रहने वाली टीमों से क्रॉसओवर मैच खेलेगी। क्रॉसओवर मुकाबला जीतने वाली टीम को क्वार्टर फाइनल में जगह मिलेगी।