नई दिल्ली। आईसीसी वर्ल्ड कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में नहीं चुने जाने पर व्यंग्यात्मक ट्वीट करने के बावजूद बल्लेबाज अंबाती रायुडू पर बीसीसीआई कोई कार्रवाई नहीं करेगा।

हैदराबाद के रायुडू को विजय शंकर की वजह से भारतीय सिलेक्टर्स ने नजरअंदाज किया। इस अनदेखी से नाराज होकर रायुडू ने मंगलवार को ट्वीट किया कि 30 मई से होने वाले वर्ल्ड कप को देखने के लिए उनकी थ्री-डी चश्मा खरीदने की योजना है।

इसे चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद के उस बयान का जवाब माना गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि रायुडू की बजाए विजय शंकर को उनकी थ्री-डायमेंशनल क्वालिटी की वजह से प्राथमिकता दी गई।

बीसीसीआई ने रायुडू के ट्वीट पर विचार किया लेकिन उन्होंने सीधे तौर पर चयन प्रक्रिया को लेकर कोई कमेंट नहीं किया था इसके चलते उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। टीम में नहीं चुने जाने पर वे निश्चित तौर पर निराश होंगे और इसके चलते भावनाओं का बाहर आना आवश्यक था। यह अच्छा रहा कि उन्होंने खुलकर किसी बात का विरोध नहीं किया।

उस अधिकारी ने कहा, रायुडू को इस निराशा से उबरने में थोड़ा वक्त लगेगा। वे भारतीय टीम के तीन स्टैंड बाय खिलाड़ियों में शामिल हैं। यदि किसी खिलाड़ी को चोट लगती हैं तो रायुडू के पास विश्व कप में खेलने का मौका रहेगा।