मल्टीमीडिया डेस्क। भारत के युवा विकेटकीपर रिषभ पंत फॉर्म में बने हुए हैं और वेस्टइंडीज के गेंदबाजों पर उनका बल्ला लगातार गरज रहा है। पंत ने हैदराबाद में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में एक खास मुकाम हासिल कर लिया और वे दिग्गजों के ग्रुप में शामिल हो गए।

लगातार दो पारियों में नर्वस नाइंटीज का शिकार होने वाले दूसरे भारतीय :

पंत हैदराबाद में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में 92 रन बनाकर गेब्रिएल का शिकार बने। वे लगातार दूसरी बार नर्वस नाइंटीज का शिकार बने, वे राजकोट टेस्ट में भी 92 रन बनाकर आउट हुए थे। पंत टेस्ट क्रिकेट में लगातार दो पारियों में नर्वस नाइंटीज का शिकार बनने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बने। इससे पहले 1997 में श्रीलंका के खिलाफ राहुल द्रविड़ के साथ ऐसा हुआ था।

पंत ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में फिफ्टी लगाई और वे टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीन फिफ्टी प्लस स्कोर बनाने वाले महेंद्रसिंह धोनी के बाद दूसरे भारतीय विकेटकीपर बन गए। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट में 114 और वेस्टइंडीज के खिलाफ राजकोट टेस्ट में 92 रन बनाए थे। इसके बाद उन्होंने हैदराबाद टेस्ट में भी फिफ्टी लगाई। इससे पहले भारत की तरफ से धोनी ने 2008 और 2009 में यह कारनामा अंजाम दिया था।

दुनिया के पांचवें विकेटकीपर : पंत ने टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीन 80 रनों से ज्यादा की पारियां खेली। उन्होंने इससे पहले ओवल में 114 और राजकोट में 92 रन बनाए थे। वे टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीन बार 80 रनों से ज्यादा की पारियां खेलने वाले दुनिया के पांचवें विकेटकीपर बने। उनसे पहले यह करिश्मा डेनिस लिंडसे (1966-67), एलन नॉट (1971), एडम गिलक्रिस्ट (2005) और मैट प्रॉयर (2010-11) ने किया था।