हैदराबाद। मुंबई इंडियंस आईपीएल 2019 का चैंपियन बन गया है। बेहद रोमांचक रहे फाइनल में मुंबई ने चेन्नई को अंतिम गेंद पर 1 रन से हराया। मुंबई ने चौथी बार खिताब पर कब्जा जमाया है। 150 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए चेन्नई की टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 148 रन बनाए।

मुंबई और चेन्नई के बीच आईपीएल 2019 का ये फाइनल मैच वाकई महामुकाबला साबित हुआ। पल-पल मैच में रूख करवट बदलता रहा। एक समय चेन्नई काफी मजबूती से टारगेट की ओर बढ़ती दिखाई दे रही थी, तो कभी महत्वपूर्ण मौकों पर विकेट लेकर मुंबई ने मैच पर अपनी पकड़ मजबूत की। अंतिम समय चेन्नई लक्ष्य से काफी दूर नजर आ रही थी, लेकिन शेन वॉटसन ने शानदार 80 रन (59 गेंद, 8 चौके, 4 छक्के) की पारी खेलकर चेन्नई को जीत के नजदीक पहुंचाया।

अंतिम ओवर में चेन्नई को जीत के लिए 9 रनों की जरुरत थी। एक-एक, दो-दो रन लेकर चेन्नई जीत के नजदीक पहुंचा और उसे अंतिम गेंद पर जीत के लिए 2 रनों की जरुरत थी। पर मलिंगा ने दीपक चाहर को एलबीडब्ल्यू आउट कर मुंबई को खिताबी जीत दिला दी।

जसप्रीत बुमराह को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच घोषित किया गया। वहीं किरोन पोलार्ड मोस्ट स्टायलिश प्लेयर ऑफ द मैच रहे। राहुल चाहर ने गेम चेंजर ऑफ द मैच का अवॉर्ड जीता। हार्दिक पांड्या ने सबसे तेज फिफ्टी लगाने का अवॉर्ड जीता। किरोन पोलार्ड ने परफेक्ट कैच ऑफ सीजन का अवॉर्ड जीता। डेविड वॉर्नर ने 692 रनोंं के साथ ऑरेंज कैप पर कब्जा जमाया। इमरान ताहिर ने 26 विकेटों के साथ पर्पल कैप हासिल की।

मुंबई द्वारा निर्धारित 150 रनों के टारगेट का पीछा करने उतरी चेन्नई को शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस ने तेज शुरुआत दी। प्लेसिस ने 13 गेंदों में 26 रन बनाए, जिसमें 3 चौके और 1 छक्का शामिल थे। चौथे ओवर में प्लेसिस ने कृणाल पांड्या के ओवर में 2 चौके और एक छक्का लगाया। लेकिन इसी ओवर में कृणाल की गेंद पर प्लेसिस को डी कॉक ने स्टंप्स आउट कर मुंबई को पहली सफलता दिलाई।

इसके बाद वॉटसन और रैना ने पारी को आगे बढ़ाया। राहुल चाहर ने मुंबई को दूसरी सफलता दिलाई। राहुल ने रैना को एलबीडब्ल्यू आउट किया। रैना ने 8 रन बनाए। वॉटसन ने रैना को साथ लेकर दूसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े। इसके बाद अंबाती रायुडू को बुमराह की गेंद पर क्विंटन डी कॉक ने कैच किया।

Bumrah heating things up for the @mipaltan.#IPL2019Final #MIvCSK pic.twitter.com/YZnmBBccXr

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

मुंबई को बड़ी सफलता कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के विकेट पर मिली। धोनी केवल 2 रन बनाकर इशान किशन के सटीक थ्रो पर रन आउट हुए। ये काफी करीबी मामला रहा और अंपायर को इसे आउट देने में कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ा।

इसके बाद मुंबई ने ब्रावो और शेन वॉटसन के विकेट लेकर मैच को रोमांचक बना दिया। ब्रावो (15) को बुमराह की गेंद पर डी कॉक ने कैच किया। इसके बाद वॉटसन 80 रन बनाकर रन आउट हुए। वॉटसन 20 ओवर की चौथी गेंद पर आउट हुए। उस समय चेन्नई बिल्कुल जीत की दहलीज पर था, लेकिन वॉटसन आउट हो गए। अंतिम गेंद पर मलिंगा ने दीपक चाहर का विकेट लेकर मुंबई को चौथा खिताब दिला दिया।

मुंबई की ओर से बुमराह ने 2 विकेट लिए, जबकि कृणाल, मलिंगा और राहुल चाहर ने 1-1 विकेट लिए। फाइनल में मुंबई की फील्डिंग बेहद खराब रही और उसके खिलाड़ियों ने कई कैच छोड़े। अकेले वॉटसन के ही 3 कैच छोड़े।

इससे पहले मुंबई ने अपनी पारी में नियमित अंतराल से विकेट खोए। उसके लिए कोई बड़ी साझेदारी नहीं हो पाई, जिससे मुंबई बड़े स्कोर तक नहीं पहुंच पाया। मुंबई के लिए किरोन पोलार्ड ने सबसे ज्यादा 25 गेंदों में 41 रन बनाए। अपनी इस पारी में पोलार्ड ने 3 चौके और 3 छक्के लगाए। उनके अलावा सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने 29, इशान किशन ने 23 और हार्दिक पांड्या ने 16 रन बनाए।

अंतिम ओवर में उस समय विवाद की स्थिति बनींं जब अंपायर ने ड्वेन ब्रावो की बाहर जाती हुई 2 गेंदों पर वाइड नहीं दी। ये दोनों ही गेंदें काफी ज्यादा बाहर थी और पोलार्ड ने इन्हें वाइड समझकर छोड़ दिया था। इसके बाद अंपायर के फैसले से नाराज पोलार्ड क्रीज के काफी बाहर खड़े हो गए। इस दौरान अंपायर ने उन्हें समझाया और फिर खेल शुरू हुआ।

WATCH: What's up with Pollard?

Full video here 📹📹https://t.co/4G5yINPdj2 #IPL2019Final #MIvCSK pic.twitter.com/tpNsK6aZi9

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

वहीं चेन्नई के गेंदबाजोंं ने बेहद अनुशासित गेंदबाजी की। चेन्नई के लिए दीपक चाहर सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने अपने 4 ओवरों में एक मैडन के साथ 26 रन देकर 3 विकेट लिए। वहीं इमरान ताहिर और शार्दुल ठाकुर ने 2-2 विकेट लिए।

Innings Break!

The @ChennaiIPL restrict #MumbaiIndians to a total of 149/8 in Finals of the #VIVOIPL.

Will #CSK chase this down? pic.twitter.com/kVTcVqDnAq

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

मुंबई को कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डीकॉक क्रीज ने तेज शुरुआत दी। दोनों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए रन बटोरे। हालांकि मुंबई ने लगातार दो ओवरों में डी कॉक और कप्तान रोहित के विकेट खो दिए। मुंबई ने पहले विकेट डी कॉक का खोया। शार्दुल ठाकुर की गेंद को मारने की कोशिश में मिसटाइमिंग हुआ और डी कॉक का विकेट के पीछे धोनी ने आसान कैच लिया। डी कॉक 17 गेंदों में 29 रन (4 छक्के) बनाए।

इसके अगले ओवर में दीपक चाहर की गेंद ने रोहित के बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए सीधे धोनी के दस्तानों में समां गईं। रोहित ने 14 गेंदों में 15 रन (एक चौका, एक छक्का) बनाए। इसके बाद इमरान ताहिर की गेंद को कट करने की कोशिश में सूर्यकुमार यादव 15 रन (17 गेंद) बोल्ड हो गए।

How many of you were waiting for this Imran Tahir celebration?#IPL2019Final #MIvCSK pic.twitter.com/LH1a1PeLTR

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

इसके अगले ही ओवर में शार्दुल ठाकुर ने कृणाल पांड्या का महत्वपूर्ण विकेट लिया। ठाकुर ने उनका अपनी ही गेंद पर शानदार कैच लपका। कृणाल 7 रन ही बना पाए।

WATCH: Cool Shardul grabs a stunner 😯😯

Full video here 📹📹https://t.co/jMeHw6NjXu #IPL2019 #MIvCSK pic.twitter.com/RbaZX85b9m

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

इमरान ताहिर ने इसके बाद इशान किशन को चलता किया। इशान का सुरेश रैना ने आसान कैच लिया। इशान 26 गेंदों में 23 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके लगाए। इस विकेट के साथ ही ताहिर आईपीएल के इस सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए।

इसके बाद दीपक चाहर ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए अपने एक ही ओवर में पहले हार्दिक पांड्या और फिर राहुल चाहर के विकेट लिए। हार्दिका 16 रन बनाने के बाद एलबीडब्ल्यू आउट हुए। वहीं राहुल चाहर अपना खाता भी नहीं खोल पाए।

इससे पहले इस फाइनल मुकाबले में जब पारी की शुरुआत हुई तो दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों का शानदार स्वागत किया गया। मुंबई के साथ चेन्नई के खिलाड़ी जब मैदान में उतरे तो आतिशबाजी से उनका स्वागत किया गया।

इस महामुकाबले में मुंबई ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। मुंंबई ने अपने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव किया है। जयंत यादव के स्थान पर मिचेल मैक्लेनाघन को शामिल किया है। जबकि चेन्नई ने कोई बदलाव नहीं किया है।

The @mipaltan Skipper Rohit Sharma wins the toss and elects to bat first against @ChennaiIPL.#IPLFinal #MIvCSK pic.twitter.com/807XBZROHo

— IndianPremierLeague (@IPL) 12 May 2019

मुंबई ने 5 फाइनल में चौथा खिताब जीता

चेन्नई का ये 8वां फाइनल था। अब तक वो 3 बार विजेता बनी है। वहीं मुंबई इंडियंस ने अपना 5वां फाइनल खेलते हुए चौथा खिताब हासिल किया। मुंबई को साल 2010 के फाइनल में हार मिली थी। इसके बाद साल 2013 और 2015 में मुंबई ने रोहित शर्मा की कप्तानी में फाइनल में चेन्नई को हराया।

टीमें : मुंबई इंडियंस (MI) - रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डीकॉक, सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, कीरोन पोलार्ड, हार्दिक पांड्या, कृणाल पांड्या, राहुल चाहर, जसप्रीत बुमराह, लसिथ मलिंगा, मिचेल मैक्लेनाघन।

चेन्नई सुपर किंग्स (CSK)- शेन वॉटसन, फाफ डु प्लेसिस, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), रविंद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, हरभजन सिंह, दीपक चाहर, शार्दुल ठाकुर, इमरान ताहिर।