लंदन। विंबलडन 2018 के खिताबी मुकाबले में नोवाक जोकोविच का सामना केविन एंडरसन से होगा। इससे पहले तीन बार के चैंपियन जोकोविच ने आधे बचे सेमीफाइनल मैच में दुनिया के नंबर वन खिलाड़ी 6-4,3-6,7-6(11/9), 3-6, 10-8 से हराया।

रफेल नडाल और तीन बार के चैंपियन नोवाक जोकोविच के बीच विम्बल्डन पुरुष एकल सेमीफाइनल इस टूर्नामेंट के कर्फ्यू नियम के कारण शुक्रवार को तीन सेट के बाद स्थगित कर दिया गया था। इसके बाद शनिवार को बाकी बचा मुकाबला खेला गया। ये विंबलडन इतिहास में मेंस सिंगल्स सेमीफाइनल का दूसरा सबसे लंबा मुकाबला था, जोकि पांच घटे 14 मिनट तक चला। 12 बार के ग्रैंड स्लेम विजेता जोकोविच ने 2011, 2014 और 2015 में विंबलडन का खिताब जीता था।

2016 में यूएस ओपन का फाइनल खेलने के बाद जोकोविच पहली बार किसी बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे हैं। विम्बल्डन टूर्नामेंट में नियम है कि स्थानीय समयानुसार रात 11 बजे के बाद खेल नहीं होता है, इसके चलते नडाल-जोकोविच का मुकाबला तीसरे सेट के बाद रोक दिया गया। इस समय जोकोविच 6-4, 3-6, 7-6 (9) से आगे थे। केविन एंडरसन और जॉन इस्नर के बीच 6 घंटे से ज्यादा समय तक चले पहले मैराथन सेमीफाइनल की वजह से दूसरा मैच देरी से शुरू हुआ था।

पिछली बार साल 2007 में ऐसा हुआ था कि पुरुष सेमीफाइनल शनिवार को पूरा हुआ था। उस वक्त भी जोकोविच और नडाल का मैच ही रोका गया था।

12वीं वरीयता प्राप्त जोकोविच ने पहला सेट 6-4 से जीतकर मैच में बढ़त बनाई। दूसरे क्रम के नडाल ने दूसरा सेट आसानी से 6-3 से जीतकर मैच में 1-1 की बराबरी की। तीसरा सेट बेहद संघर्षपूर्ण रहा, लेकिन सर्बियाई खिलाड़ी जोकोविच ने इसे जीतकर मैच में बढ़त हासिल की।