जकार्ता। युवा विश्व चैंपियन शशि चोपड़ा (57 किग्रा) समेत छह भारतीय मुक्केबाज एशियन गेम्स टेस्ट स्पर्धा के फाइनल में पहुंच गए हैं। चार अन्य भारतीय मुक्केबाजों को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

महिलाओं के ड्रॉ में शशि के अलावा पवित्रा (60 किग्रा) ने भी फाइनल में भी जगह बनाई। पुरुषों में इंडिया ओपन के स्वर्ण विजेता मनीष कौशिक (60 किग्रा), तीन बार के किंग्स कप के स्वर्ण विजेता के श्याम कुमार (49 किग्रा), शेख सलमान अनवर (52 किग्रा) और आशीष (64 किग्रा) फाइनल में पहुंचे।

शशि ने सेमीफाइनल में फिलीपींस की रिजा पसुइत को 4-1 से हराया। फाइनल में उनका मुकाबला थाइलैंड की रतचादापोर्न साओतो से होगा। वहीं, पवित्रा ने अपने मुकाबले में दक्षिण कोरिया की हवांग हुईजुंग को 5-0 से मात दी। फाइनल में वह थाइलैंड की निलावन तेचासुइप से टकराएंगी।

पुरुषों के सेमीफाइनल मुकाबले में मनीष ने चीनी ताइपे लाइ चु येन को 5-0 से पछाड़ा। फाइनल में उनका मुकाबला जापान के रेंतारो किमुरा से होगा। श्याम कुमार अपने मलेशियाई प्रतिद्वंद्वी मुहम्मद फुआद रेदुजुआन से वॉकओवर मिलने से फाइनल में पहुंचे, जहां उनका सामना इंडोनेशिया के मारिओ ब्लासिअस से होगा।

अनवर ने कड़े मुकाबले में जापान के बाबा रयूसेई को 3-2 से शिकस्त देकर फाइनल में स्थानीय खिलाड़ी रोगेन लादोन से मुकाबला तय किया। सेमीफाइनल में इंडोनेशिया के लिबरेट्स गा को हराने वाले आशीष फाइनल में फिलीपींस के सुगर रे ओकाना का सामना करेंगे।

वहीं चार अन्य भारतीय मुक्केबाजों मुहम्मद एताश खान (69 किग्रा), रितु ग्रेवाल (51 किग्रा), पवन कुमार (69 किग्रा) और आशीष कुमार (75 किग्रा) को सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक हासिल हुआ।