सेंचुरियन। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 6 मैचों की वनडे सीरीज भारत पहले ही 4-1 के बड़े अंतर से जीत चुका है। मगर इसके बाद भी टीम इंडिया की जीत की भूख कम होती नहीं दिख रही। तभी तो कप्तान कोहली भी जीत का अतंर 4-1 के बजाए 5-1 करने की बात बार-बार दोहरा रहे हैं।

अब मुकाबला शुक्रवार को सेंचुरियन के सुपर स्पोर्ट पार्क में है। ऐसे में इस मैच को भी जीतकर टीम इंडिया T-20 सीरीज में दोगुने जोश के साथ उतरना चाहेगी। वैसे ही भारत सीरीज 4-1 से आगे होने के साथ ही आईसीसी की वनडे रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीका को पछाड़कर नंबर वन बन गया है। ऐसे में आखिरी मुकाबले में टीम इंडिया इसी रुतबे के मुताबिक खेलना चाहेगी। वहीं मेजबान टीम के पास लाज बचाने का ये आखिरी मौका है। ऐसे में वो अपनी साख बचान के लिए पूरा जोर लगाएगी।

सलामी बल्लेबाजों का अच्छा प्रदर्शन-

भारत के लिए इस सीरीज में सलामी बल्लेबाजों ने अच्छा खेला है। अकेले शिखऱ धवन ने भी इस सीरीज में तीन सौ से ज्यादा रन ठोंके। वहीं लंबे वक्त से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे रोहित शर्मा भी पिछले मैच में रंग में नजर आए। रोहित ने पोर्ट एलिजाबेथ में शानदार शतक जमाते हुए टीम की जीत की राह तैयार की। ऐसे में आखिरी मुकाबले में भी इनसे ऐसी ही उम्मीद होगी। वहीं खुद कप्तान कोहली भी शानदार फॉर्म में हैं। वो सीरीज में दो शतक लगा चुके हैं। वहीं मिडिल ऑर्डर में रहाणे और धोनी रही सही कसर पूरी करने की क्षमता रखते हैं।

बेंच स्ट्रेंथ को मौका दे सकते हैं कोहली-

सीरीज जीतने के बाद कप्तान कोहली आखिरी वनडे में बेंच स्ट्रेंथ को मौका दे सकते हैं। मिडिल ऑर्डर में दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे और केदार जाधव में से किसी को आखिरी वनडे में प्लेइंग इलेवन में मौका दिया जा सकता है।वहीं गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह औऱ मोहम्मद शमी के हाथों में ही कमान होगी। वहीं युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव, जिन्हें खेलना दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के लिए किसी पहेली से कम नहीं रहा। वो स्पिन डिपार्टमेंट में टीम को मजबूती देंगे।

वहीं दक्षिण अफ्रीका के लिए इस सीरीज में बल्लेबाजी कमजोर कड़ी साबित हुई है। एबी डिविलियर्स, डेविड मिलर, हाशिम अमला पर ही आखिरी वनडे में पूरी जिम्मेदारी होगी। वहीं गेंदबाजी में लुंगी नजीदी, कागिसो रबाडा के लिए अहम होंगे।

इस मैदान पर अच्छा है भारत का रिकॉर्ड-

1992 से अब तक इस मैदान पर इन दोनों टीमों के बीच खेले गए वनडे मैचों की बात करें तो अभी तक 6 मुकाबले खेले गए हैं। जिसमें से 3 मैच में भारत की जीत हुई है तो 2 मुकाबलों में द. अफ्रीका ने बाज़ी मारी थी। एक मैच बिना किसी निर्णय के खत्म हुआ था। इससे पहले इसी सीरीज के दूसरे मुकाबले में यह दोनों टीमें इस मैदान पर भिड़ चुकी हैं। उस मैच में भारत ने नौ विकेट से जीत दर्ज की थी। शुक्रवार को सेंचुरियन में ज़्यादातर बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ तूफ़ान की भी संभावना है। तो टीम इंडिया को सीरीज़ का स्कोर 5-1 करने के लिए दमदार प्रदर्शन के साथ-साथ इंद्र देवती की मेहरबानी भी चाहिए होगी।

संभावित टीमें:

भारत: विराट कोहली( कप्तान), शिखऱ धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी(WK), हार्दिक पांड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, शार्दुल ठाकुर

दक्षिण अफ्रीका: एडन मार्करम( कप्तान), हाशिम अमला, हेनरिक क्लासेन(WK), जेपी ड्यूमिनी, एबी डी विलियर्स, इमरान ताहिर, डेविड मिलर, मोर्ने मॉर्कल, क्रिस मॉरिस, लुंगी नजीदी, एंडिल फेहलुकवायो, कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, जोंडो, फरहान बेहरदिन।