Naidunia
    Saturday, February 24, 2018
    PreviousNext

    उम्र खेलों में बाधक नहीं, खेलना चाहे तो कभी भी खेल सकते हैं: फेडरर

    Published: Tue, 13 Feb 2018 08:11 PM (IST) | Updated: Wed, 14 Feb 2018 10:08 AM (IST)
    By: Editorial Team
    rojar fedrar 13 02 2018

    रोटरडेम।विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी रोजर फेडरर ने कहा कि उम्र खेलों में बाधक नहीं है। यदि आप खेलना चाहे तो किसी भी उम्र में हमेशा खेल सकते हैं। कड़ी मेहनत और अभ्यास से आप अलग तरह के खिलाड़ी बन सकते हैं। 36 वर्षीय फेडरर ने कहा कि मुझे इस उम्र में भी खेलने में अच्छा लग रहा है। मैंने छह महीने के लिए अपने रिटर्न पर काम किया। इसके बाद मुझे लगा कि मैं अलग तरह का खिलाड़ी बना। लेकिन हर कोई ऐसा करने से डरता है। मैंने इस तरह का अभ्यास इसलिए किया क्योंकि मेरी उम्र ज्यादा है। मैंने कई मुकाबले खेले हैं। हम पहले तैयार होते हैं तभी किसी टूर्नामेंट में खेलते हैं। मैं लोगों के बारे में नहीं सोचता।

    इस साल का ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीतने वाले फेडरर बुधवार को रोटरडैम टूर्नामेंट में रुबेन बेमेलमेंस के खिलाफ मुकाबला खेलेंगे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें