पेरिस (एजेंसी)। स्पेन के दिग्गज खिलाड़ी राफेल नडाल ने ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम को हराकर रिकॉर्ड 12वीं बार फ्रेंच ओपन का पुरुष एकल का खिताब जीता। उन्होंने 4 सेट तक चले फाइनल में 6-3, 5-7, 6-1, 6-1 से जीत हासिल की।

नडाल के अब कुल 18 ग्रैंड स्लैम खिताब हो गए हैं। उन्होंने एक बार ऑस्ट्रेलियन ओपन, दो बार विम्बल्डन और तीन बार यूएस ओपन जीता है। स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ने सबसे ज्यादा 20 ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं।

33 वर्षीय स्पेनिश खिलाड़ी ने फ्रेंच ओपन में कुल 95 में से सिर्फ दो मैच ही हारे हैं और 93 में जीत हासिल की है। नडाल 12 बार फाइनल में पहुंचे और हर बार उन्होंने यह खिताब जीता है। वह पहली बार 2005 में फाइनल में पहुंचे थे और अपना पहला फ्रेंच ओपन जीता था। किसी भी अन्य खिलाड़ी (पुरुष अथवा महिला) ने किसी एक ग्रैंड स्लैम के 12 खिताब नहीं जीते हैं। इससे पहले फ्रांस के मैक्स डुक्यूगिस ने आठ फ्रेंच ओपन के खिताब जीते थे। यह मुकाबला पिछले साल हुए फाइनल की तरह ही था। तब नडाल ने थिएम को सीधे सेटों में हराया था। 25 वर्षीय ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी थिएम ने सेमीफाइनल में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविक को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी।

पहला सेट थिएम हार गए थे। दूसरा सेट जीतकर थिएम ने मैच को नडाल के लिए मुश्किल करने का प्रयास किया। दोनों खिलाड़ी एक-एक सेट जीत चुके थे और ऐसा लग रहा था कि यह मुकाबला और रोमांचक हो सकता है। लेकिन, इसके बाद दुनिया के नंबर दो खिलाड़ी नडाल ने बता दिया कि आखिर क्यों उन्हें क्ले कोर्ट का मास्टर कहा जाता है। उन्होंने कुल मिलाकर अंतिम दो सेटों में से 14 गेम से से 12 में जीत हासिल करके मैच और खिताबी ट्रॉफी जीत ली।

नडाल के 12 फ्रेंच ओपन खिताब

वर्ष, बनाम

2005, मारिनो पुएर्ता

2006, रोजर फेडरर

2007, रोजर फेडरर

2008, रोजर फेडरर

2010, रोबिन सोडेर्लिंग

2011, रोजर फेडरर

2012, नोवाक जोकोविक

2013, डेविड फेरर

2014, नोवाक जोकोविक

2017, स्टेन वावरिंका

2018, डोमिनिक थिएम

2019, डोमिनिक थिएम