नई दिल्ली। भारतीय स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने अंकिता रैना के प्रदर्शन की तारीफ करते हुए फेड कप में उनके प्रदर्शन को शानदार बताया, लेकिन टीम के अगले दौर में ना पहुंचने पर निराशा जताई है और कहा कि टीम को अगले दौर में पहुंचना चाहिए था।

भारतीय टीम पिछले सप्ताह रेलिगेशन प्लेऑफ में चीनी ताइपे को 2-0 से हराकर एशिया ओशियाना ग्रुप-1 में जगह बरकरार रखने में सफल रही। इससे पहले प्रतियोगिता में भारत को चीन और कजाखिस्तान से हार का सामना करना पड़ा था।

सानिया ने कहा, "हम हमेशा खाली हाथ वापस आए हैं। युवा कौशल में जबरदस्त प्रगति के बाद भी हम अगले स्तर में नहीं पहुंच पा रहे। हम इसे हासिल नहीं कर पा रहे हैं। यह देखना काफी उत्साहजनक है कि अंकिता ने दो बार रैंकिंग में शीर्ष-100 में शामिल खिलाड़ियों को मात दी। टीम भले ही मैच हारी हो, लेकिन आपको उसमें से हर सकारात्मक पहलू को देखना चाहिए।"

जब पूछा गया कि भविष्य की सानिया बनने की क्षमता किसमें हैं तो उन्होंने कहा "कई साल से मेरे से पूछा जा रहा है कि भविष्य की सानिया कौन हो सकती है और मैंने हमेशा कहा है कि अगली सानिया क्यों? क्यों ना सानिया से अच्छा बनने की कोशिश करें सिर्फ सानिया क्यों।"

सानिया ने सेरेना विलियम्स और मारिया शारापोवा की वापसी पर कहा, "सेरेना के अलावा महिला टेनिस में कभी भी किसी एक खिलाड़ी का दबदबा नहीं रहा है। उनके अलावा हर कोई बराबर दावेदार होता है। जब भी सेरेना हारती हैं तो टूर्नामेंट जीतने के कई दावेदार होते हैं। महिला टेनिस में काफी गहराई है इसलिए आप ऐसा देखते हैं कि ज्यादा रैंकिंग की खिलाड़ी भी विश्व रैंकिंग में पांचवें या दूसरे स्थान पर काबिज खिलाड़ियों को हरा देती हैं। वह टेनिस इतिहास की सबसे महान खिलाड़ी हैं।"