न्यूयॉर्क। एजेंसी वैज्ञानिकों ने एक नया स्मार्टफोन एप विकसित किया है। इसके जरिए खून की कमी की समस्या एनीमिया की सटीक पहचान हो सकती है। इस बीमारी का पता लगाने में रक्त जांच की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। महज नाखूनों की तस्वीरों से ही एनीमिया का पता लगाया जा सकता है।

-अमेरिका की एमरी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने यह एप विकसित किया है। रक्त जांच की जगह यह एप स्मार्टफोन से किसी व्यक्ति के नाखूनों की ली गई तस्वीरों से सटीक आकलन कर सकता है कि खून में हीमोग्लोबिन की कितनी मात्रा मौजूद है?

इस अध्ययन के प्रमुख शोधकर्ता विल्बर लैम ने कहा, 'इस स्वचालित एप का नतीजा सटीक हो सकता है।' शोधकर्ताओं का कहना है कि इस एप का इस्तेमाल क्लीनिकल डाइग्नोसिस में नहीं बल्कि स्क्रीनिंग में होना चाहिए। इस तकनीक का उपयोग कोई भी और किसी भी समय कर सकता है। यह एप खासतौर से गर्भवती महिलाओं के लिए उपयोगी हो सकता है।