वाशिंगटन। डाटा लीक मामले में आलोचना झेल रही सोशल नेटवर्किंग कंपनी फेसबुक में जो दिक्कतें हैं, उन्हें फौरन दूर नहीं किया जा सकता। इन्हें ठीक करने में कुछ महीने नहीं, बल्कि कुछ वर्ष लग जाएंगे। यह बात कंपनी के सहसंस्थापक और सीईओ मार्क जकरबर्ग ने खुद कही है।

जकरबर्ग ने अपने कारोबारी मॉडल का बचाव करते हुए अपना पक्ष रखा है। जकरबर्ग ने कहा कि फेसबुक की समस्याओं में से एक यह है कि वह आदर्शवादी है, उसने लोगों को जोड़ने के सकारात्मक पहलुओं पर ध्यान केंद्रित किया। हमने इसके नकारात्मक इस्तेमाल के बारे में नहीं सोचा।

उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि अब लोग जोखिम और नकारात्मक पहलुओं पर भी ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। वैसे तो हम इन सब मसलों को तीन से छह महीने में सुलझा लेना चाहते हैं, लेकिन हकीकत यही है कि इनका हल निकालने के लिए अधिक समय की जरूरत है।"

टिम कुक को जवाब-

जकरबर्ग ने एपल के सीईओ टिम कुक की टिप्पणी का भी जवाब दिया। कुक ने कहा था कि फेसबुक का बिजनेस मॉडल लोगों का डाटा बेचकर पैसे कमाने पर आधारित है। इसी वजह से उसे मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। जकरबर्ग ने कहा कि उन्हें यह दलील सुनने को मिली कि यदि आप भुगतान नहीं कर रहे हैं तो हम आपकी परवाह नहीं करते। इसका सच्चाई से कोई लेना-देना नहीं है।

उन्होंने कहा, "हकीकत यह है जब आप ऐसी सेवा तैयार करते हैं, जो लोगों को आपस में जुड़ने में मदद करता है, तब ऐसे बहुत से लोग होते हैं जो भुगतान नहीं कर सकते। ऐसे में विज्ञापन आधारित मॉडल ही एकमात्र तर्कसंगत मॉडल है।

डाटा लीक मामले में आलोचना झेल रही सोशल नेटवर्किंग कंपनी फेसबुक में जो दिक्कतें हैं, उन्हें फौरन दूर नहीं किया जा सकता। इन्हें ठीक करने में कुछ महीने नहीं, बल्कि कुछ वर्ष लग जाएंगे। यह बात कंपनी के सहसंस्थापक और सीईओ मार्क जकरबर्ग ने खुद कही है।

जकरबर्ग ने अपने कारोबारी मॉडल का बचाव करते हुए अपना पक्ष रखा है। जकरबर्ग ने कहा कि फेसबुक की समस्याओं में से एक यह है कि वह आदर्शवादी है, उसने लोगों को जोड़ने के सकारात्मक पहलुओं पर ध्यान केंद्रित किया। हमने इसके नकारात्मक इस्तेमाल के बारे में नहीं सोचा।

उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि अब लोग जोखिम और नकारात्मक पहलुओं पर भी ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। वैसे तो हम इन सब मसलों को तीन से छह महीने में सुलझा लेना चाहते हैं, लेकिन हकीकत यही है कि इनका हल निकालने के लिए अधिक समय की जरूरत है।"

टिम कुक को जवाब -

जुकरबर्ग ने ऐपल के सीईओ टिम कुक की टिप्पणी का भी जवाब दिया। कुक ने कहा था कि फेसबुक का बिजनेस मॉडल लोगों का डाटा बेचकर पैसे कमाने पर आधारित है। इसी वजह से उसे मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। जकरबर्ग ने कहा कि उन्हें यह दलील सुनने को मिली कि यदि आप भुगतान नहीं कर रहे हैं तो हम आपकी परवाह नहीं करते। इसका सच्चाई से कोई लेना-देना नहीं है।

उन्होंने कहा, "हकीकत यह है जब आप ऐसी सेवा तैयार करते हैं, जो लोगों को आपस में जुड़ने में मदद करता है, तब ऐसे बहुत से लोग होते हैं जो भुगतान नहीं कर सकते। ऐसे में विज्ञापन आधारित मॉडल ही एकमात्र तर्कसंगत मॉडल है।