Naidunia
    Monday, April 23, 2018
    Previous

    गूगल की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक से खोजें नए ग्रह

    Published: Tue, 13 Mar 2018 08:29 AM (IST) | Updated: Tue, 13 Mar 2018 03:37 PM (IST)
    By: Editorial Team
    google ai 13 03 2018

    वॉशिंगटन। नासा द्वारा नए ग्रहों की खोज में इस्तेमाल किए गए गूगल के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) सिस्टम को सार्वजनिक कर दिया गया है। अब इस तकनीक का प्रयोग कर अन्य वैज्ञानिक भी सौर मंडल के बाहर स्थित ग्रहों (एक्सोप्लैनेट) की खोज कर पाएंगे।

    हाल में इस सिस्टम से एक न्यूरल नेटवर्क (दिमाग और तंत्रिका तंत्र को आधार में रखकर बनाया गया कंप्यूटर सिस्टम) तैयार किया गया था। इस नेटवर्क ने नासा के केपलर स्पेस टेलीस्कोप से जुटाए डाटा का अध्ययन कर केपलर-90-आई और केपलर-80 जी नामक दो नए ग्रहों को खोजने में सफलता हासिल की थी।

    केपलर टेलीस्कोप में हजारों सिग्नल एकत्रित होते रहते हैं। वैज्ञानिक स्वचालित सॉफ्टवेयर की मदद से पता लगाते हैं कि कौन-सा सिग्नल ग्रहों से मिला है। ग्रह की खोज के लिए सिग्नल का एक-एक कर विश्लेषण किया जाता है। जटिल होने के साथ ही इस प्रक्रिया में काफी समय लग जाता है। इसलिए गूगल ने एआई तकनीक को विकसित किया जो इन सिग्नलों की सटीक पहचान कर सके। एआई की प्रामाणिकता जांचने के लिए 15,000 सिग्नलों पर इसका इस्तेमाल किया गया था।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें