वाशिंगटन। फेसबुक के स्वामित्व वाली फोटो और वीडियो शेयरिंग ऐप इंस्टाग्राम अपने प्लेटफॉर्म पर आपत्तिजनक कंटेंट पोस्ट करने वाले यूजर्स पर सख्ती बरतने के मूड में दिख रही है। इंस्टाग्राम इसके लिए जल्द ही पॉप-अप वार्निंग जैसा फीचर्स लाने वाली है। कंपनी ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इसकी जानकारी दी है।

इंस्टाग्राम के प्रमुख एडम मोसेरी ने इस कांफ्रेंस में बताया कि, हमारा दायित्व है कि हम इंस्टाग्राम पर एक सुरक्षित वातावरण बनाने का काम करें। इसके लिए हमने कुछ जरूरी उपायों को लेकर प्लानिंग की थी, जिसमें पॉप-अप वार्निंग जैसा फीचर लाने पर सहमति बनी है। आपत्तिजनक कंटेंट को रोकने को लेकर हमारी टीम बहुत दिनों से काम कर रही है। इसके लिए हमने कई चीजों पर काम किया है। जैसे-जैसे ऐप में बदलाव करने की स्थिति बनेगी, उसी प्रकार से इसे और बेहतर बनाने की हमारी कोशिश भी जारी रहेगी।

मोसेरी ने बताया कि, हमने एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टूल तैयार किया है जो आपत्तिजनक कंटेंट पर नजर रखेगा। इंस्टाग्राम यूजर्स जब भी किसी कंटेंट को प्लेटफार्म पर पोस्ट करेंगे, यह टूल उन्हें वार्निंग देगा। यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टूल उस पर बारीकी से नजर रखेगा। यह टूल यूजर्स को फौरन बताएगा कि ये पोस्ट आपत्तिजनक है। यह वार्निंग इंटरवेंशन यूजर्स को सतर्क करने के लिए है। इसके अलावा भी अगर किसी प्रकार की गलत हरकत प्लेटफार्म पर किसी यूजर्स के द्वारा की जाती है तो दूसरा पक्ष उसे अनफॉलो, ब्लॉक और रिपोर्ट कर सकता है।

मोसेरी ने आगे बताया कि हमने इस फीचर का नाम रेस्ट्रिक्ट रखा है। यह सिर्फ उसी यूजर को दिखेगा जिसे पोस्ट करने वाले से किसी प्रकार की कोई परेशान करने वाली चीजें भेजी जा रही हों। ऐसे में पोस्ट करने वाले को उस पर्टिकुलर दूसरे यूजर्स से पोस्ट करने के लिए सहमति लेनी पड़ेगी। ऐसे में जब आप ऑनलाइन रहेंगे या उस आपत्तिजनक पोस्ट को पढ़ रहे होंगे तब रिस्ट्रिक्टेड यूजर्स आपको नहीं देख पाएगा।