सैन फ्रांसिस्को। सोशल नेटवर्किंग ऐप और साइट्स के बीच तेजी से जारी प्रतिस्पर्धा के बीच खो चुके गूगल के हैंगआउट को लेकर नई खबर आई है। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि गूगल 2020 तक इसे बंद कर देगी। लेकिन मीडिया की खबरों का खंडन करते हुए गूगल ने कहा है कि वो हैंगआउट को बंद नहीं करने जा रहा। कंपनी ने साथ ही इसे लेकर अपना प्लान भी बताया है।

एक यूजर द्वारा हैंगआउट के बंद होने को लेकर किए गए ट्वीट का जवाब देते हुए गूगल के स्कॉट जॉनस्टन ने जवाब दिया कि कंपनी ने हैंगआउट को बंद करने को लेकर अब तक कोई फैसला नहीं लिया है। बल्कि इसे जल्द ही हैंगआउट चैट और हैंगआउट मीट में अपग्रेड किया जाएगा। हालांकि, उन्होंने इसके अलावा और कोई डिटेल्स नहीं दी है।

बता दें कि गूगल ने 2013 में जीटॉक की जगह पर हैंगआउट को लॉन्च किया था, लेकिन कंपनी ने हालिया वर्षो में ऐप को अपडेट करना बंद कर दिया और एसएमएस संदेशों को इससे अलग कर दिया, जिसके कारण इसमें फीचर की कमी होती गई।

हालांकि वेब पर जीमेल (Gmail) में हैंगआउट अभी भी एक मुख्य चैट विकल्प है और यह ऐप गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) पर अभी भी उपलब्ध है।