Naidunia
    Saturday, February 24, 2018

    नईदुनिया गुरुकुल

    सकारात्मक शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नईदुनिया ने स्कूली छात्रों के लिए प्रेरक कहानियों की श्रृंखला 'गुरुकुल' शुरू की है।

    'गुरुकुल' में मजबूत हो रहे संस्कार

    'गुरुकुल' में मजबूत हो रहे संस्कार

    Wed, 24 Jan 2018 12:46 PM (IST)

    बात चाहे दूसरों की मदद की हो या जरूरतमंदों का सहारा बनने की। हर अच्छी बात की शुरुआत घर से ही होती है।

    गुरुकुल की कहानियों से दे रहे नैतिकता और संस्कार

    गुरुकुल की कहानियों से दे रहे नैतिकता और संस्कार

    Thu, 23 Nov 2017 02:01 PM (IST)

    गुरुकुल के अंतर्गत प्रेरक संदेश, नैतिक मूल्य, संस्कार और सम्मान की कहानियां नईदुनिया अखबार के जरिए बच्चों तक पहुंचाया जा रहा है।

    नईदुनिया गुरुकुल : बच्चों का मन टटोलने के लिए लगातार संवाद करें माता-पिता

    नईदुनिया गुरुकुल : बच्चों का मन टटोलने के लिए लगातार संवाद करें माता-पिता

    Fri, 17 Nov 2017 10:15 AM (IST)

    घर में माता-पिता के पास बच्चों के लिए समय नहीं है और स्कूल में शिक्षक किताबी पढ़ाई करवाकर अपनी जिम्मेदारी पूरी समझ रहे हैं।

    स्पोर्ट्स आइकन- मैरी कॉम-3 (कक्षा 9-12 के लिए) : लक्ष्य पर नजर

    स्पोर्ट्स आइकन- मैरी कॉम-3 (कक्षा 9-12 के लिए) : लक्ष्य पर नजर

    Thu, 16 Nov 2017 10:56 AM (IST)

    वह उस समय के चर्चित कोच एम.नर्जित सिंह के पास पहुंचीं और बोली 'सर मुझे मुक्केबाजी सीखनी है।'

    गुरुकुल की कहानियों से मिल रहे नैतिक मूल्य और संस्कार

    गुरुकुल की कहानियों से मिल रहे नैतिक मूल्य और संस्कार

    Thu, 16 Nov 2017 09:59 AM (IST)

    संस्कार और नैतिक मूल्य वे स्तंभ हैं जिन पर सुदृढ़ भविष्य की नींव खड़ी होती है।

    स्पोर्ट्स आइकन-मैरी कॉम-2 (कक्षा 6-8 के लिए) : बुलंद हौसले की जीत

    स्पोर्ट्स आइकन-मैरी कॉम-2 (कक्षा 6-8 के लिए) : बुलंद हौसले की जीत

    Wed, 15 Nov 2017 11:11 AM (IST)

    मीता अपने स्कूल की मुक्केबाजी की टीम में थी। इस खेल के लिए बहुत अधिक अभ्यास की जरूरत होती है।

    स्पोर्ट्स आइकन- मैरी कॉम-1 (कक्षा 3-5 के लिए) : सच हो गया सपना

    स्पोर्ट्स आइकन- मैरी कॉम-1 (कक्षा 3-5 के लिए) : सच हो गया सपना

    Tue, 14 Nov 2017 11:51 AM (IST)

    बेहद गरीब परिवार में जन्मी मैरी कॉम शुरू से ही बहुत जुझारू किस्म की लड़की थी।

    नईदुनिया गुरुकुल : बच्चों को परोपकारी बनाना है तो मजबूत करें संस्कारों की जड़

    नईदुनिया गुरुकुल : बच्चों को परोपकारी बनाना है तो मजबूत करें संस्कारों की जड़

    Fri, 10 Nov 2017 10:58 AM (IST)

    चाहे बात दूसरों की मदद की हो या जरूरतमंदों का सहारा बनने की। हर अच्छी बात की शुरूआत घर से ही होती है।

    मैं और सिर्फ मैं- 3 (कक्षा 9-12 के लिए) : सहकार का भाव

    मैं और सिर्फ मैं- 3 (कक्षा 9-12 के लिए) : सहकार का भाव

    Thu, 09 Nov 2017 12:40 PM (IST)

    यजुर्वेद में संस्कृत का एक वाक्य है 'अहम् ब्रह्मास्मि', जिसका अर्थ है- मैं स्वयं ब्रह्म हूं।

    मैं और सिर्फ मैं-2 (कक्षा 6-8 के लिए) : बदलने का संकल्प

    मैं और सिर्फ मैं-2 (कक्षा 6-8 के लिए) : बदलने का संकल्प

    Wed, 08 Nov 2017 12:08 PM (IST)

    क्रिकेट खेलते समय वीरू ने एकदम से गेंद को झटका दिया और दूर फेंक दिया।

    मिलती जुलती तस्वीरें