बैंकॉक। अपने परिवार के दुर्व्यवहार से आहत होकर सऊदी से भागी 18 वर्षीय युवती को आस्ट्रेलिया ने शरण देने की अनुमति प्रदान कर दी है। इस संदर्भ में आव्रजन पुलिस प्रमुख सुरचते हाकपर्ने ने शुक्रवार को सीएनएन को बताया, आस्ट्रेलिया ने उसे शरण देने को मंजूरी प्रदान कर दी है। हालांकि अभी भी हम जानना चाहते हैं कि वह वास्तव में जाना कहां चाहती है।

उन्होंने बताया कि कनाडा ने सऊदी युवती रहफ मोहम्मद अल कुनून को शरण देने की पेशकश की थी और वह उसके फैसले का इंतजार कर रही है। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी यूएनएचसीआर ने बुधवार को कूनून की सुरक्षा का अनुरोध आस्ट्रेलिया के पास भेजा था।

हाकपर्ने ने कहा कि बैंकॉक में अज्ञात स्थान पर रह रही कुनून अंतिम निर्णय होते ही देश छोड़ देगी। हम उसे आवश्यक सुरक्षा प्रदान कर रहे हैं। हालांकि, आस्ट्रेलिया के गृह मामलों के विभाग ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

18 वर्षीय कुनून ने आरोप लगाया है कि उसके परिवार ने उसका शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न किया। कुवैती युवती ने कहा कि उसने ऑस्ट्रेलिया में शरण लेने की योजना बनाई थी। उसे डर है कि अगर थाई आव्रजन अधिकारी वापस भेजते हैं, तो उसकी हत्या कर दी जाएगी। थाई अधिकारियों ने उसे रविवार को हवाई अड्डे पर ही रोक दिया था।

शुरुआत में थाई अधिकारियों ने कहा कि कुनून को सऊदी अरब भेजा जाएगा। सोशल मीडिया के जरिये उसकी दुर्दशा सामने आने के बाद अधिकारियों ने अपना फैसला बदल दिया। सोमवार को उसे यूनएचसीआर की देखरेख में हवाई अड्डा से जाने की अनुमति दे दी। उस लड़की ने होटल के एक कमरे में खुद को कैद कर लिया था।