थिंपू। नरेंद्र मोदी के साथ उनका रसोइया भी भूटान गया है, ताकि प्रधानमंत्री को घर का बना खाना मिल सके। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली स्थित गुजरात भवन से एक कर्मचारी को खासतौर पर मोदी का खाना बनाने के लिए भेजा गया है।

मोदी बाहर का या होटल का खाना नहीं खाते हैं। ऐसे में उनके भूटान पहुंचने से पहले ही रसोइये को वहां भेज दिया गया था। मोदी का दौरा दो दिन का है, लेकिन रसोइया पूरे सात दिन वहां रहकर आएगा।

मोदी भूटान की ताज ताशी होटल में ठहरे हैं और वहां के 50 कमरे भारतीय प्रतिनिधि मंडल के लिए बुक कराए गए हैं।

मोदी शाकाहारी हैं, इसलिए होटल ने अपने मेनू से भी मांसाहारी व्यंजन हटा लिए हैंं। साथ ही मेहमानों को गुजराती खाना भी परोसा जा रहा है।

लोकसभा चुनावों के दौरान भी मोदी ने देशभर का दौरा किया, लेकिन रात में वे अहमदाबाद पहुंच ही जाते थे, ताकि घर का बना खाना खा सकें। दिल्ली में भी वे कई दिन रूके, लेकिन खाना गुजरात भवन में ही खाया।