पेरिस। फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित 12वीं सदी का प्रसिद्ध नॉट्रे डैम कैथेड्रल चर्च सोमवार को लगी भीषण आग में जलकर खाक हो गया। लगभग 850 साल पुराने इस चर्च में लकड़ी का काम ज्यादा था। इसी वजह से आग तेजी से फैली और उस पर काबू पाने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।

बहरहाल, इस बीच एक अच्छी खबर यह है कि फ्रांस के अरबपति फ्रांकोइस पिनाउल्ट ने चर्च को 10 करोड़ यूरो (784.32 करोड़ रुपए) दान देने की घोषणा की है, ताकि चर्च को फिर से खड़ा किया जा सके।

अरबपति पिनाउल्ट के बेटे फ्रांकोइस-हेनरी पिनाउल्ट ने कहा कि नॉट्रे डैम में लगी भीषण आग, एक त्रासदी है, जिसका प्रभाव पूरे फ्रांस में पड़ेगा। हेनरी, आर्टेमिस ग्रुप होल्डिंग कंपनी के प्रेसिडेंट हैं।

परिवार की होल्डिंग में लक्जरी ब्रांड गुच्ची, बोट्टेगा वेनेटा, बालेंसीगा और अलेक्जेंडर मैक्वीन के साथ-साथ नीलामी घर क्रिस्टी शामिल हैं। हेनरी ने कहा कि यह त्रासदी सभी फ्रांसीसी लोगों और उससे भी परे है फ्रांस के आध्यात्मिक मूल्यों के लिए समर्पित लोगों को प्रभावित करेगी। हर कोई हमारी विरासत के इस नगीने को जल्द से जल्द पुनर्जीवित करना चाहता है।

बताया जा रहा है कि आग छत में लगी और पूरे चर्च में फैल गई, जिसस चर्च की मीनारें, वहां की गई चित्रकारी सबकुछ खाक हो गई है। ऐतिहासिक महत्व का होने की वजह से हर साल इसे देखने के लिए एक करोड़ से ज्यादा सैलानी आते थे।