हांगकांग। हांगकांग के प्रत्यर्पण कानून में होने वाले बदलाव को लेकर शहर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। शुक्रवार को प्रस्तावित कानून के विरोध में प्रदर्शन करने के दौरान पांच महिला कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया।

प्रत्यर्पण को लेकर चीन की नई नीति के विरुद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को स्थानीय सरकार के मुख्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया जिसके बाद इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। प्रस्तावित कानून के अनुसार चीन हांगकांग की प्रत्यर्पण शक्तियों को अपने हाथ में लेना चाहता है।

इसके पीछे चीन की दलील है कि उसके यहां के भगोड़े हांगकांग जाकर बस जाते हैं इसलिए वह इस शक्ति को अपने पास रखना चाहता है। उधर हांगकांग के नागरिक चीन की इस चाल को स्वायतता प्राप्त शहर के अधिकार का हनन मानते हैं। लोकतंत्र के पक्ष में खड़े कार्यकर्ता किसी भी कीमत पर हांगकांग को चीन की कम्युनिस्ट सरकार के प्रभाव से दूर रखना चाहते हैं। 1997 में ब्रिटेन से चीन के अधिकार क्षेत्र में गए हांगकांग को कई मामलों में स्वायत्तता दी गई है।