संयुक्त राष्ट्र। भारत ने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की एनजीओ समिति समेत आर्थिक और सामाजिक परिषद (ईसीओएसओसी) की छह संस्थाओं के चुनाव में जीत दर्ज की है। इनमें से पांच में भारत को निर्विरोध चुन लिया गया। एशिया-प्रशांत समूह से जुड़ी एनजीओ समिति के लिए भारत को चुनाव का सामना करना पड़ा। भारत ने इसमें अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को पीछे छोड़ते हुए सबसे ज्यादा 46 वोट हासिल किए। समिति के लिए चुने गए पाकिस्तान को 43 और चीन को 39 वोट मिले।

विश्व के 193 देश ईसीओएसओसी के सदस्य हैं। यूएन की एनजीओ समिति को बहुत प्रभावशाली माना जाता है क्योंकि यह सलाह देने के साथ गैर सरकारी संगठनों के कामकाज पर नजर रखती है। किसी गैर सरकारी संगठन पर प्रतिबंध लगाने का अधिकार भी इस समिति के पास है। भारत इस समिति में चार साल तक अपनी सेवाएं देगा। भारत का कार्यकाल जनवरी, 2019 से शुरू होगा। भारत ने यूएन कार्यकारी बोर्ड की अन्य अहम सीटों जैसे यूएन विकास कार्यक्रम, यूएन जनसंख्या निधि और यूएन ऑफिस फॉर प्रोजेक्ट सर्विस के लिए हुए चुनाव में भी जीत दर्ज की है। इनका कार्यकाल तीन साल का है।