सियोल। उत्तर कोरिया भयंकर सूखे की चपेट में है। सरकार के मुताबिक, यह पिछले चार दशक का सबसे भीषण सूखा है। उत्तर कोरिया की सरकारी सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बुधवार को कहा कि इस साल देश के विभिन्न हिस्सों में औसतन 54.4 मिलीलीटर वर्षा हुई है, जो 1982 से लेकर अब तक की सबसे कम बारिश है।

इस महिने की शुरुआत में संयुक्त राष्ट्र से जुड़ी एजेंसियों ने कहा था कि उत्तर कोरिया की करीब एक करोड़ जनता खाद्यान्न संकट से जूझ रही है। यह हालात देश में कम पैदावार के कारण पैदा हुए है। गत फरवरी में संयुक्त राष्ट्र में उत्तर कोरिया के दूत किम सोंग ने अपील की थी कि उनके देश को खाद्यान्न संकट से उबरने के लिए तत्काल मदद की जरूरत है।