Naidunia
    Saturday, February 24, 2018
    PreviousNext

    रूसी विमान दुर्घटना में पायलट की लापरवाही आई सामने, हीटिंग यूनिट की वजह से हुआ हादसा

    Published: Wed, 14 Feb 2018 01:27 PM (IST) | Updated: Wed, 14 Feb 2018 02:14 PM (IST)
    By: Editorial Team
    russia 2018214 141252 14 02 2018

    मॉस्को। पिछले दिनों 11 फरवरी को रुस में हुई विमान दुर्घटना के पीछे पायलट की लापरवाही सामने आई है। जांचकर्ताओ का कहना है कि पायलट विमान की हीटिंग यूनिट को बंद करने में असफल हो गया था जिसके कारण उसे गलत सूचना मिलने लगी और विमान दुर्घटना का शिकार हो गया।

    रूसी अंतरराज्यीय विमानन समिति के हवाले से द न्यूयॉर्क पोस्ट ने बताया कि, उड़ान में एक विशेष स्थिति के पैदा हो जाने पर विमान में मौजूद इंडीकेटर से उड़ान की गति के बारे में गलत जानकारी जारी की जाने लगी। दूसरी तरफ विमान के हीटिंग सिस्टम भी बंद हो गए थे।

    विमान के टेकऑफ करने पर 1300 मीटर की उंचाई पर पहुंचने के 2 मिनट 30 सेकंड के बाद ये विशेष स्थिति बननी शुरु हो गई। इसके बाद इंडीकेटर में विमान की स्पीड 465-470 किमी प्रति घंटे बताने लगा। विमान को जमीन पर उतारने से पहले, विमान में मौजूद दो सेंसर में से एक 0 किमी की गति दिखा रहा था जबकि दूसरे में 800 किमी की गति दिखाई गई थी।

    रूसी अंतरराज्यीय विमानन समिति ने हालांकि कॉकपिट में हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग प्राप्त कर ली है लेकिन अभी तक इसकी समीक्षा नहीं की गई है। बताया जा रहा है कि विमान की उड़ान सुरक्षा के नियमों और विमान संचालन नियमों के उल्लंघन के आरोपों पर एक आपराधिक मामला दर्ज किया गया है।

    11 फरवरी को, सर्टोव एयरलाइंस द्वारा चलाए जा रहे रूसी विमान एंटोनोव A -144 K उड़ान भरने के कुछ मिनट बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें मौजूद सभी 71 लोगों की मौत हो गई थी। क्रैश विमान के मलबे मॉस्को इलाके के रामसेस्की जिले में पाए गए। बता दें कि विमान मास्को के डोमोदोवो हवाई अड्डे से ओर्स्क की तरफ उड़ान भर रहा था।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें