जोहांसबर्ग। भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति जैकब जुमा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। देश के सत्ताधारी दल अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस द्वारा उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की धमकी के बाद उठाया। राष्ट्रीय टीवी प्रसारण में जुमा ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मैं राष्ट्रपति के पद से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा देता हूं। इससे पहले सत्ताधारी दल ने सोमवार को लगातार बैठकें करते हुए जुमा को इस्तीफा देने के लिए कहा था जिसे उन्होंने सिरे से नकार दिया था।

जुमा के इस्तीफे के साथ ही देश में उनका 9 वर्ष का कार्यकाल समाप्त हो गया। देश में साल 2019 में चुनाव होने थे। इस्तीफा देने के साथ ही उन्होंने एएनसी द्वारा उनके स्थान पर सायरिल रामाफोसा को राष्ट्रपति चुनने के निर्णय को गलत करार दिया।

जुमा ने एक बयान में कहा कि 'मैं अपने संगठन के नेतृत्व द्वारा लिए गए निर्णय से असहमत हूं। लेकिन मैं अपने संगठन का हमेशा से ही एक अनुशासित सदस्य रहा।'

जुमा ने अपनी ही पार्टी द्वारा प्रस्ताव लाकर हटाए जाने को लेकर कहा कि 'मैं अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने से नहीं डरता। यह एक खूबसूरत देश के लोगों द्वारा अपने राष्ट्रपित को हटाए जाने के लिए अपनाई जाने वाली कानूनी प्रक्रिया है।' बता दें कि जुमा इससे पहले कई बार उनके खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्तावों से बच निकले थे।

उनके इस्तीफे के बाद उपराष्ट्रपति रामाफोसा तब तक अंतरिम राष्ट्रपति बने रहेंगे जब तक राष्ट्रपति के रूप में उनकी औपचारिक ताजपोशी नहीं हो जाती।