दुबई। रुढ़िवादी देश सऊदी अरब में जल्द ही दस हजार महिलाएं टैक्सी चलाती नजर आएंगी। इस सिलसिले में टैक्सी सेवा संचालित करने वाली बहुराष्ट्रीय कंपनी उबर और उसकी सहायक कंपनी करीम ने लाइसेंस शुदा महिला ड्राइवरों की भर्ती शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब की शाही सत्ता ने सितंबर 2017 में महिलाओं के ड्राइविंग करने पर लगा प्रतिबंध खत्म किया है।

अमेरिकी न्यूज चैनल सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक सऊदी अरब में 80 प्रतिशत महिला ग्राहक उबर टैक्सी का इस्तेमाल करती हैं। दुबई में 70 प्रतिशत महिला ग्राहक उबर की सहायक कंपनी करीम की सेवाएं लेती हैं। ऐसे में महिला ग्राहकों की सुविधा के लिए उबर और करीम में महिला ड्राइवरों की नियुक्ति की जाएगी। इससे सऊदी अरब और दुबई के परंपरागत समाज की महिलाएं भी टैक्सी सेवा लेने में सहूलियत महसूस करेंगी।

माना जा रहा है कि सऊदी अरब में शुरुआती प्रशिक्षण के बाद जून 2018 से महिलाएं टैक्सी चलाना शुरू कर देंगी। मौजूदा समय में इन स्थानों पर टैक्सी चलाने वाले पुरुष ड्राइवर हैं। इनमें ज्यादातर सऊदी अरब के नागरिक हैं और उनके पास खुद की टैक्सी है।

जाहिर तौर पर ड्राइविंग के पेशे में महिलाओं के आने से पुरुष ड्राइवरों के रोजगार पर असर पड़ेगा। साथ ही सामाजिक जीवन, आवागमन और मार्केटिंग में महिलाओं की भागीदारी बढ़ेगी।