कीव। छोटे पर्दे पर राष्ट्रपति का किरदार निभाने वाले कॉमेडियन वोलोदिमीर जेलेंस्की अब यूक्रेन के राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं। वह सोमवार को सात बजे पद की शपथ लेंगे। सोवियत संघ के युग के बाद राष्ट्रपति पद संभालने वाले वह देश के सबसे युवा राष्ट्रपति होंगे। परंपरा के अनुसार वह संविधान की कॉपी और संभवतः बायबल पर हाथ रखकर शपथ लेंगे। इसके बाद वह देश को संबोधित करेंगे और भविष्य की अपनी नीतियों के बारे में बताएंगे।

बताते चलें कि युद्ध और आर्थिक संकटों से जूझ रहे देश को उबारना 41 वर्षीय जेलेंस्की के लिए बड़ी चुनौती होगा। बीते दिनो उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव में बड़ी जीत दर्ज की है। उन्होंने चर्चित टीवी सीरीज 'सर्वेंट ऑफ द पीपुल' में राष्ट्रपति की भूमिका निभाई थी। इसके अलावा उन्हें राजनीति का बिल्कुल अनुभव नहीं था। बावजूद इसके जेलेंस्की ने मौजूदा राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको को चुनाव में बुरी तरह हरा दिया था। जेलेंस्की को 73.2 फीसदी वोट मिले थे, जबकि पेट्रो को 24.4 फीसद वोट मिले थे।

जब जेलेंस्की ने 31 दिसंबर को अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की, तो अभिनेता और कॉमेडियन होने की वजह से कुछ ने इसे गंभीरता से लिया था। मगर, सोशल मीडिया के माध्यम से बड़े पैमाने पर चलाए गए एक अभूतपूर्व अभियान के बाद उन्होंने 21 अप्रैल को पोरोशेंको को पछाड़ते हुए दूसरे दौर में 73 प्रतिशत से अधिक जीते थे।

पोरोशेंको ने पांच साल यूक्रेन का नेतृत्व किया। वह वर्ष 2014 में यूक्रेन में रूस समर्थित सरकार हटने के बाद सत्ता में आए थे। इस घटना के बाद रूस ने यूक्रेन के क्रीमिया पर कब्जा कर लिया था। साथ ही देश के पूर्व में मास्को समर्थित अलगाववादियों के साथ सशस्त्र संघर्ष में 13,000 लोगों की मौतें हुईं। पोरोशेंको ने पूर्ण पतन को रोक दिया और प्रमुख सुधारों की एक श्रृंखला शुरू की। हालांकि, व्यापक रूप से यूक्रेन के लोगों के जीवन स्तर में सुधार करने या सभी जगह फैले भ्रष्टाचार से लड़ने में असफल रहने की वजह से उनकी काफी आलोचना की गई।