वाशिंगटन। भारतीय अमेरिकी वनिता गुप्ता को अमेरिकी न्याय विभाग के नागरिक अधिकार प्रभाग का प्रमुख नियुक्त किया गया है। वनिता अमेरिकी सिविल लिबर्टी यूनियन की शीर्ष वकील हैं और इस पद पर नियुक्ति पाने वाली पहली दक्षिण एशियाई हैं। राष्ट्रपति बराक ओबामा आगामी महीनों में नागरिक अधिकारों के सहायक अटार्नी के रूप में कार्य करने के लिए स्थाई तौर पर गुप्ता को नामित कर सकते हैं।

अटार्नी जनरल एरिक होल्डर ने विनिता गुप्ता को मुख्य उपसहायक अटार्नी जनरल और नागरिक अधिकार प्रभाग की कार्यकारी सहायक अटार्नी जनरल बनाए जाने की घोषणा की। होल्डर ने कहा, "वनिता ने अपना पूरा करियर यह सुनिश्चित करने में लगा दिया कि हमारे देश में सभी के लिए एक समान न्याय का वादा पूरा हो सके।"

विनिता मोली मोरान की जगह 20 अक्टूबर को पदभार संभालेंगी। विनिता अभी तक एसीएलयू में उप विधिक निदेशक थीं। उन्होंने येल यूनिवर्सिटी और न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ लॉ की पढ़ाई की है। गुप्ता का जन्म फिलाडेल्फिया में हुआ लेकिन उनका पालन पोषण इंग्लैंड और फ्रांस में हुआ है।