बीजिंग। एक चीनी महिला इन दिनों सुर्खियां बनी हुई है। एक रात को जब वो सोई और सुबह जागी तो उसने पाया कि उसे पुरुषों की आवाजें सुनाई नहीं दे रही है। उसे इसका अंदाजा तब हुआ जब वह सुन ही नहीं पा रही थी कि उसका बॉयफ्रेंड क्या बोल रहा है।

चेन नाम की इस महिला ने तुरंत अस्पताल का रूख किया। उस एक दुर्लभ बीमारी रिवर्स-स्लोप हियरिंग लॉस डायग्नोस हुई जिसमें वह केवल हाई फ्रीक्वेंसी की आवाजें ही सुन सकती हैं। हियरिंग प्रॉब्लम के साथ 13 हजार में से एक इससे प्रभावित होते हैं। डॉक्टरों के मुताबिक, चेन की इस स्थिति के पीछे तनाव मुख्य कारण होगा।

रात को जरूर इस महिला के कान बज रहे थे और जी मचल रहा था लेकिन जब सुबह उठी तो उसका ये हाल था। वह जब ईएनटी स्पेश्लिस्ट से मिली तो उसे महिला डॉक्टर की आवाज अच्छे से सुनाई दे रही थी लेकिन वह एक मेल पेशेंट की आवाज नहीं सुन पा रही थी।

क्या है रिवर्स-स्लोप हियरिंग लॉस (RSHL)?

रिवर्स-स्लोप हेयरिंग लॉस मुख्य रूप से कम आवृत्तियों को प्रभावित करता है और जेनेटिक इसका मुख्य कारण है। RHSL के पहचाने गए सोर्सेस में वोल्फ्राम सिंड्रोम, मोंदिनी डिस्प्लेसिया और एक डोमिनेंट जीन के माध्यम से वंशानुक्रम हैं। अचानक हियरिंग लॉस, मेनीयर की बीमारी और वायरल संक्रमण को RSHL के कारणों के रूप में भी पहचाना जाता है।

RSHL का इलाज करना आसान नहीं है क्योंकि अधिकांश हेल्थ केयर प्रोफेशनल्स को हाई-फ्रीक्वेंसी लॉस का इलाज करने के लिए प्रशिक्षिक किया जाता है। RSHL के लक्षणों में शामिल है- फोन पर बात करने में कठिनाई होना, महिलाओं और बच्चों की आवाज तो समझ सकते हैं लेकिन पुरुषों और लो फ्रीक्वेंसी वाली आवाजों को सुनने में असमर्थता।